वैश्विक कोरोनावायरस मामले 50 लाख से ज्यादा, दक्षिण अमेरिका नया केंद्र

वैश्विक कोरोनावायरस के मामलों ने बुधवार को 50 लाख के आंकड़े को पार कर लिया. दक्षिण अमेरिका महामारी का नया केंद्र बनकर उभरा है. विश्व स्तर पर नए दैनिक मामलों की संख्या के मामले में इसने पिछले सप्ताह अमेरिका और यूरोप को पीछे छोड़ दिया.

इस सप्ताह की शुरुआत में दर्ज किए गए लगभग 91,000 मामलों में से एक-तिहाई लैटिन अमेरिका में सामने आये. जबकि यूरोप और अमेरिका में केवल 20% से थोड़ा ज्यादा मामले सामने आये हैं.

इन नए मामलों की एक बड़ी संख्या ब्राजील में सामने आई, जो हाल ही में जर्मनी, फ्रांस और ब्रिटेन को पीछे छोड़ते हुए अमेरिका और रूस के बाद दुनिया में तीसरा सबसे ज्यादा संक्रमणों वाला देश बन गया. ब्राजील में मामले अब केवल अमेरिका के बाद सबसे तेज दैनिक गति से बढ़ रहे हैं.

10 जनवरी को चीन के वुहान में कोरोनावायरस के पहले 41 मामलों की पुष्टि की गई थी और इसके 10 लाख मामलों तक पहुंचने में दुनिया को 1 अप्रैल तक का समय लगा. तब से हर दो सप्ताह में लगभग 10 लाख नए मामले सामने आ रहे हैं.

50 लाख से अधिक मामलों तक पहुंचने में कोरोनावायरस ने छह महीने का समय लिया जो गंभीर स्वाइन फ्लू के कुल वार्षिक मामलों के बराबर है. विश्व स्वास्थ्य संगठन का अनुमान है कि स्वाइन फ्लू के वैश्विक स्तर पर लगभग 30 लाख से 50 लाख मामले हुए थे.

कोरोनावायरस महामारी से अब तक 326,000 से अधिक लोगों की मौत हुई है. हालांकि यह माना जाता है कि सही संख्या इससे अधिक है क्योंकि परीक्षण अभी भी सीमित हैं और कई देशों में अस्पतालों के बाहर हुई मौतें इसमें शामिल नहीं हैं. यूरोप में कुल मौतों में से आधे से अधिक दर्ज की गई हैं.

हिन्दुस्थान समाचार/राकेश सिंह

Leave a Reply

%d bloggers like this: