पूर्व PM मनमोहन सिंह ने ठुकराया कैप्टन अमरिंदर का न्यौता

नई दिल्ली/अमृतसर. देश में 17वीं लोकसभा के लिए होने वाले चुनाव की तारीखों का ऐलान होते ही सभी राजनीतिक पार्टियां प्रत्याशियों को अंतिम रूप देने में जुट गई हैं. वहीं कुछ वरिष्ठ नेताओं को पार्टी कार्यकर्ता और स्थानीय नेताओं द्वारा अपने-अपने राज्य से चुनाव लड़ने और जिताने की गारंटी के साथ ऑफर मिलने लगे हैं.

इसी के तहत पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह व कांग्रेस की पंजाब इकाई की ओर से पूर्व प्रधानमंत्री डॉ. मनमोहन सिंह को अमृतसर लोकसभा सीट से चुनाव लड़ने का न्यौता दिया गया है.

आपको बता दे कि 2014 के लोकसभा चुनाव में कैप्टन अमरिंदर सिंह ने मौजूदा वित्तमंत्री अरुण जेटली को करारी शिकस्त दी थी. इस सीट से दो बार बीजेपी के टिकट पर पूर्व क्रिकेटर नवजोत सिंह सिद्धू सांसद रह चुके हैं.

बाद में जब पंजाब में कांग्रेस की सरकार बनी तो सांसदी से इस्तीफा देकर कैप्टन अमरिंदर सिंह पंजाब के मुख्यमंत्री बने. अमृतसर सिक्खों का पवित्र स्थान है, यहां विश्व प्रसिद्ध स्वर्ण मंदिर स्थित है. डॉ. मनमोहन सिंह की छवि एक साफ सुथरे राजनेता की है. बेशक उनकी यूपीए-2 की सरकार पर भ्रष्टाचार के आरोप लगे हों.

हालांकि डॉ. मनमोहन सिंह ने फिलहाल चुनाव लड़ने से इनकार कर दिया है. आपको बता दे कि डॉ. सिंह 1991 लगातार असम से राज्यसभा के सांसद हैं. वे दो बार प्रधानमंत्री रहने के दौरान भी राज्यसभा के ही सदस्य रहे.

उन्होंने साल 1999 में दक्षिणी दिल्ली से कांग्रेस के टिकट पर चुनाव लड़ा था, जिसमें उन्हें बीजेपी के डॉ. विजय कुमार मल्होत्रा से हार का सामना करना पड़ा था. ऐसा पहली बार नहीं है कि मनमोहन सिंह को पहली बार अमृतसर से चुनाव लड़ने का ऑफर मिला हो. 2009 के लोकसभा चुनाव के समय भी उन्हें ऑफर मिला था लेकिन उस समय उन्होंने अपने खराब स्वास्थ्य का हवाला देकर चुनाव लड़ने से इनकार कर दिया था.

%d bloggers like this: