पूर्व विदेश मंत्री सुषमा स्वराज की जयंती आज, शिवराज ने कुछ इस तरह किया याद

भोपाल, 14 फरवरी (हि.स.). पूर्व विदेश मंत्री स्वर्गीय सुषमा स्वराज की आज 14 फरवरी को जयंती है. सुषमा स्वराज अपनी सरलता और सादगी के लिए जानी जाती थींं.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने पहले कार्यकाल में ही सुषमा को विदेश मंत्री जैसा महत्वपूर्ण पद दिया था. इस पद पर रहते हुए सुषमा ने विदेश में रह रहे भारतीयों की मदद की दिशा में सराहनीय कार्य किए थे.

इसके चलते उनकी जयंती की पूर्व संध्या पर विदेश मंत्रालय ने प्रवासी भारतीय केंद्र का नाम बदलकर सुषमा स्वराज भवन करने का एलान किया है. इसके अलावा विदेश सेवा संस्थान का नाम बदलकर सुषमा स्वराज इंस्टिट्यूट ऑफ फॉरेन सर्विस करने का फैसला किया गया है.

सुषमा स्वराज की जयंती पर देशभर में राजनेता उन्हें याद कर रहे हैंं. मप्र के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भी देश और पार्टी हित में सुषमा स्वराज के अमूल्य योगदान को याद करते हुए उन्हें नमन किया है. शिवराज ने अपने ट्वीट हैंडल से भावुक संदेश लिखकर उन्हें देश और दुनिया के लिए मिसाल बताया है.

शिवराज ने ट्वीट कर लिखा ‘जनसेवा के माध्यम से भारत के साथ विश्व को अपना बना लेने वाली, असाधारण वक्ता, बहन स्व. सुषमा स्वराज जी के जन्मदिवस पर कोटि-कोटि नमन! जनकल्याण और राष्ट्र उत्थान के अपने सर्वोत्तम कार्यों और श्रेष्ठतम प्रयासों के लिए आप याद आयेंगी. हमारी स्मृतियों में अनंत काल तक जिंदा रहेंगी.

एक अन्य ट्वीट कर शिवराज ने कहा ‘हमारी बड़ी बहन आदरणीय सुषमा स्वराज का भारतीय जनता पार्टी को इस मुक़ाम पर पहुँचाने में बहुत बड़ा योगदान रहा है. आप ने देश के विदेश मंत्री रहते हुए, दुनिया भर में बसे भारतीयों के लिए माँ, बेटी, दीदी का फर्ज़़ निभाया. वो ममता की एक मिसाल थी.

विदिशा से सांसद होने पर उनको गर्व था. मध्यप्रदेश से उनका विशेष लगाव था. आज उनकी कमी हम सब को महसूस होती है. सुषमा जी, आप हमारे हृदय में सदैव जीवित रहेगी. हम आप के दिखाए हुए निस्वार्थ सेवा भाव वाले पथ पर निरंतर आगे बढ़ते रहेंगे’.

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह ने भी सुषमा स्वराज को जयंती पर नमन किया है और विदेश मंत्रालय द्वारा ‘प्रवासी भारतीय केंद्र’ का नाम स्व. सुषमा स्वराज के नाम पर करने की सराहना करते हुए ट्वीट पर लिखा ‘देश की पूर्व विदेश मंत्री, ओजस्वी नेता स्व. सुषमा स्वराज जी की जयंती पर कोटिश: नमन.

विदेश मंत्रालय द्वारा ‘प्रवासी भारतीय केंद्र’ का नाम स्व. सुषमा स्वराज जी के नाम पर करने की घोषणा सुषमा जी के योगदान को सच्ची श्रद्धांजलि है. इस केंद्र का नाम अब ‘सुषमा स्वराज इंस्टीट्यूट ऑफ फॉरेन सर्विस’ होगा.

भाजपा राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने ट्वीट कर लिखा ‘सरलता और सादगी की मूरत एवं पूर्व विदेश मंत्री ‘पद्मविभूषण’ श्रीमती सुषमा स्वराज जी की जयंती पर सादर नमन’.

हिन्दुस्थान समाचार/ नेहा पाण्डेय/मयंक

Leave a Reply

%d bloggers like this: