बीजेपी प्रदेश में राजनीतिक दुर्भावना और द्वेष की राजनीति कर गलत परंपराओं को दे रही जन्म: कमलनाथ

kamalnath
Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on whatsapp
WhatsApp

भोपाल, 10 अगस्त (हि.स.). कमलनाथ सरकार में मंत्री रहे कांग्रेस विधायक जीतू पटवारी पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की फोटो के साथ छेड़छाड़ के मामले मेें भाजपा ने एफआईआर दर्ज करवाई है.

जीतू पटवारी के खिलाफ मामला दर्ज किए जाने से कांग्रेस तिलमिला उठी है और एक के बाद एक कांग्रेस नेता इस पर आपत्ति जताते हुए भाजपा पर आरोप लगा रहे हैं. वहीं अब इस मामले में पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष कमलनाथ ने भी तीखी प्रतिक्रिया दी है.

पूर्व सीएम कमलनाथ ने जीतू पटवारी के खिलाफ दर्ज की गई एफआईआर पर अपना विरोध जताया है. उन्होंने ट्वीट कर इस मामले में भाजपा को आड़े हाथों लेते हुए कई गंभीर आरोप लगाए हैं.

उन्होंने अपने ट्वीट में कहा कि मैं पहले भी इस बात को कह चुका हूँ और आज फिर दोहरा रहा हूँ भाजपा प्रदेश में निरंतर ग़लत परंपराओ को जन्म दे रही है, राजनैतिक बदलेबाजी, दबाव -दुर्भावना की राजनीति व द्वेष भावना से काम कर रही है. भाजपा जनता का विश्वास खो चुकी है इसलिये बौखलाहट में यह सब कर रही है.

कमलनाथ ने कहा कि सरकारें आती जाती रहती है. हमारी भी प्रदेश में सरकार रही है लेकिन हमने कभी इस भावना से काम नहीं किया. हम भी यदि भाजपा की राह पर चलते तो आज कई भाजपाइयों पर इसी तरह से प्रकरण दर्ज हो चुके होते, लेकिन हम इस तरह की राजनैतिक द्वेष भावना में विश्वास नहीं करते है.

कमलनाथ ने भाजपा पर निशाना साधते हुए कहा कि प्रदेश भर में हमारे नेताओं, जनप्रतिनिधियों व कार्यकर्ताओं को चुन-चुन कर निशाना बनाया जा रहा है. सोशल मीडिया पर काम करने वाले हमारे लोगों को डराया, धमकाया जा रहा है, उन पर झूठे प्रकरण दर्ज किये जा रहे हैं.

कमलनाथ ने प्रदेशव्यापी आंदोलन की चेतावनी देते हुए कहा कि मैं भाजपा सरकार को खुली चेतावनी देता हूँ कि वो इस कुत्सित व घृणित राजनीति से बाज आये अन्यथा हमें सडक़ों पर उतरना पड़ेगा. भाजपा सरकार की इस दमनकारी सोच का मुँह तोड़ जवाब देना पड़ेगा.

हम अन्याय बर्दाश्त नहीं करेंगे, हमने देश की आज़ादी की लड़ाई के लिये अंग्रेजो से संघर्ष किया है तो भाजपा क्या है ? भाजपा सरकार ने यदि इस तरह की द्वेष भावना की राजनीति बंद नहीं की तो हम इसके खिलाफ प्रदेशव्यापी आंदोलन करेंगे.

हिन्दुस्थान समाचार/ नेहा पाण्डेय