J&K: प्रशासनिक सेवा में लौटने की अटकलें तेज, शाह फैसल ने ट्विटर से हटाया अध्यक्ष का पदनाम

rajnath singh
Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on whatsapp
WhatsApp

नई दिल्ली. पूर्व आईएएस अधिकारी शाह फैसल (Shah Faisal) जो नौकरशाह से राजनेता बन गए थे अब उनके प्रशासन में वापस शामिल होने के कयास लगाए जा रहे हैं. शाह फैसल ने रविवार को अपने ट्विटर परिचय में लिखे जम्मू एंड कश्मीर पीपुल्स मूवमेंट के अध्यक्ष के पदनाम को हटा दिया है.

फैसल के अपने ट्विटर हैंडल से राजनीतिक बायो को हटाकर वापस प्रशासन सेवा में शामिल होने की संभावना जताई है. शाह ने प्रशासनिक सेवा से इस्तीफा देने के बाद पार्टी का गठन किया था. वहीं सूत्रों का ये भी कहना है कि सरकार ने हाल ही में उन्हें ये महसूस कराया कि उनके सिविल सेवा में वापस शामिल होने से ‘उन्हें कोई ऐतराज नहीं’ है.

बता दें कि शाह फैसल ने कश्मीर में कथित हत्याओं और इन मामलों में केंद्र की ओर से गंभीर प्रयास नहीं करने का आरोप लगाते हुए इस्तीफा दिया था.

साल 2010 में शाह फैसल ने यूपीएससी की परीक्षा में टॉप किया था. सिविल सर्विस ज्वाइन करने के बाद साल 2019 में उन्होंने इस्तीफा देकर राजनीति के मैदान में उतरने का मन बनाया. एक ईमानदार अधिकारी के रूप में लोकप्रिय फैसल ने जम्मू एंड कश्मीर पीपुल्स मूवमेंट नाम से एक राजनीति तंजीम का गठन किया था.