SWINE FLU से बचने के लिए खाएं ये…

मौसम बदलने के साथ ही स्वाइन फ्लू के मामले तेजी से बढ़ने लगे है. हर साल इस बीमारी से कई लोगों की जान भी जा रही है. हालांकि अगर खाने पीने पर ध्यान दिया जाए तो इससे बचा जा सकता है.

वैसे तो स्वाइन फ्लू के लक्षण भी दूसरे फ्लू की तरह ही है. इससे बचने का सबसे बेहतर तरीका है कि खुद का ध्यान रखें. खुले में खांसने, छींकने आदि से बचें. खाने पीने में थोड़े बदलाव करने से भी इससे बचा जा सकता है.

स्वाइन फ्लू का सीधा असर रोग प्रतिरोधक क्षमता यानी इम्यून सिस्टम पर होता है. इससे इम्यून सिस्टम वीक हो जाता है. रोगों से लड़ने की एबिलिटी भी कम होती है. 

स्‍वाइन फ्लू हमारे श्‍वसन तंत्र से जुड़ी बीमारी है. यह H1N1 वायरस से होता है. यह आम फ्लू या सर्दी-जुकाम की तरह होता है, इसलिए यह खांसने, छींकने या सांस से फैलता है. पेशेंट जिन चीजों के संपर्क में आया होगा उन्‍हें छूने से भी यह फैलता है.

आपके लिए Dietitian Reema Madhian से बात कर ऐसे सुपर फूड्स के बारे में जानकारी लाए हैं, जो आपको H1N1 वायरस से होने वाली बीमारी से बचा सकते हैं. इससे बचने के लिए जरूरी है कि एक न्यूट्रीशनल बैलेंस्ड डाइट का सेवन किया जाए.

File photo

प्रोटीन
स्वाइन फ्लू से बचना है तो प्रोटीनयुक्त डाइट लेने से परहेज न करें. इसे रोजाना खाने में जरूर शामिल करें. प्रोटीन से भरपूर मीट, चिकन, अंडे, मछली, दूध, बीन्स, नट्स, सोया प्रोडक्ट्स खाएं. ये प्रोडक्ट्स स्वाइन फ्लू से बचाने में कारगार साबित हो सकते हैं.

File photo

विटामिन-सी 
बैरी, मिर्च, पालक, नींबू, संतरा, मटर जैसी एंटी वायरल प्रोपर्टी वाले फूड प्रोडक्ट का इस्तेमाल करें. यह कई सेल्स को ठीक करने में मददगार साबित होते हैं. विटामिन-सी से भरपूर दूसरे प्रोडक्ट भी खाएं.

File photo

विटामिन-ए
सांस लेने में होने वाली तकलीफ को दूर करना हो तो विटामिन-ए की उपयोग करें. डाइट में पालक, पत्तागोभी, गाजर, एपरिकॅाट, आम आदि को शामिल करें. इनका सेवन स्वाइन फ्लू से लड़ने में मददगार साबित हो सकता है.

File photo

लौंग और लहसुन भी फायदेमंद
लौंग और कच्चा लहसुन खाने से स्वाइन फ्लू से लड़ने में मदद मिलती है. इनके सेवन से स्वाइन फ्लू से लड़ने के लिए बेहतर इम्यूनिटी बनेगी. इसके साथ ही पम्पकिन के बीज, साबुत अनाज का सेवन करने से भी फायदा मिलता है.

File photo

हाइड्रेट रहें
स्वाइन फ्लू के लक्षण मिलने पर खुद को हाईड्रेट जरूर करें. फ्लू में वॅामिटिंग, डायरिया, अधिक पसीना आना शामिल है. इसलिए जरूरी है कि बीमारी के लक्षण मिलने पर पानी पिने में कटौती न करें.

File photo

हल्दी का दूध
हल्दी हो या हल्दी का दूध यह किसी भी बीमारी के लिए रामबाण इलाज है. हल्दी का दूध पीने से शरीर के प्राकृतिक संक्रमण पर रोक लग जाती है. इसके सेवन से सर्दी, फ्लू, इंफेक्शन आदि समस्याएं दूर होती है.

File photo

आंवला भी फायदेमंद
आंवले में भी कई ऐसे गुणकारी प्रॅापर्टी होती हैं जो इंफेक्शंस से बचाने में कारगार साबित होती है. इसमें प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के गुण होते हैं. इसमें विटामिन सी भी भरपुर मात्रा में होता है. अपने शरीर को स्वाइन फ्लू और अन्य संक्रमणों से सुरक्षित रखने के लिए आंवले का रस पीना चाहिए या पूरे फल खाने चाहिए.

%d bloggers like this: