बाढ़ ने बढ़ाई परेशानी, बच्ची बही तो पुल भी टूटा

शोणितपुर. शोणितपुर जिले में असम-अरूणाचल प्रदेश के सीमाई इलाकों में बाढ़ से जन जीवन अस्त व्यस्त हो रहा है. सोतिया क्षेत्र अंतर्गत कोईलाझुली गांव को जोड़ने वाले सड़क पर कोईलाझुली नदी पर बना पक्का पुल बाढ़ के पानी में हाल ही में क्षतिग्रस्त हो गया. 

पुल के क्षतिग्रस्त होने के कारण इलाके के लोगों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है. रंगापाड़ा से कोईलाझुली होते हुए चारद्वार, बालीपाड़ा की ओर जाने का यह एक मात्र सड़क है.

यहां बाढ़ के दौरान पुल के क्षतिग्रस्त हो जाने से स्थानीय ग्रामिणों को काफी परेशानी हो रही है. ग्रामीणों ने इस संबंध में स्थानयी विधायक पद्म हजारिका से पुल की मरम्मत कराने की गुहार लगाई है. 

पुल के क्षतिग्रस्त हो जाने से इलाके के विद्यार्थियों, शिक्षक, अत्यावश्यक सेवाएं, अस्पताल आदि जाने में लोगों को काफी समस्या हो रही है.

कोईलाझुली नदी पार करने के लिए लोगों ने सुपारी के पेड़ के तने बांधकर नदी को पार करने के लिए मजबूर हो रहे हैं. जिसकी वजह से बड़ा हादसा होने की संभावना बनी हुई है.

बाढ़ के पानी में 8 वर्षीय बच्ची बही
असम में आई बाढ़ में सुबह ब्रह्मपुत्र नदी के पानी में 08 वर्षीय एक बच्ची बह गई. शोणितपुर जिला मुख्यालय शहर तेजपुर के बरसला के एक नंबर बसाशिमलू में ये घटना हुई.

बच्ची की पहचान मरियम बेगम के रूप में की गई है. राज्य के 30 जिले बाढ़ की चपेट में हैं. तेजपुर में भी ब्रह्मपुत्र नदी का पानी खतरे के निशान से ऊपर बह रहा है. जिसके चलते इलाके में बाढ़ की स्थिति उत्पन्न हो गई है. 

बाढ़ के पानी में मरियम अचानक बह गई. स्थानीय लोग बच्ची की काफी तलाश की. लेकिन जब पता नहीं चल सका तो पुलिस को सूचना दी. मौके पर पहुंची एसडीआरएफ की टीम बच्ची की तलाश में जुटी हुई है.

हिन्दुस्थान समाचार/जयकिशोर/अरविंद

Leave a Comment

%d bloggers like this: