नौकरी करने वालों के लिए भी सरकार लेकर आई ये बड़ा तोहफा

नई दिल्ली. सरकार सिर्फ गरीबों के लिए ही राहत पैकेज नहीं लेकर आई है. बल्कि सरकार ने आम जनता के लिए भी कई ऐलान किए हैं. लॉकडाउन की वजह से छोटी-छोटी कंपनियों को काफी नुकसान हो रहा है. जिसकी वजह से या तो वो अपने कर्मचारियों का वेतन काट रही है या फिर उन्हें काम से निकाल रही हैं. ऐसे में सरकार कोशिश में लगी हुई हैं किसी के साथ भी इस लॉकडाउन में कुछ गलत न हो. सरकार कोशिश में हैं कि किसी को कोई नुकसान न हो.

दीनदयाल योजना के तहत महिलाओं को महिला स्वयं सहायता समूह की महिलाओं को 20 लाख तक का लोन दिया जाएगा. पहले इनको 10 लाख तक का लोन दिया जाता था.

संगठित क्षेत्र के लिए भी महत्वपूर्ण एलान किए गए हैं. अगले तीन महीने तक ईपीएफ में सरकार योगदान देगी. ईपीएफ का 12 फीसदी जो कर्मचारी देता है और 12 फीसदी जो कंपनी देती है, यह दोनों ही अगले तीन महीने तक सरकार देगी. लेकिन यह सिर्फ उन्हीं कंपनियों के लिए लागू होगा जहां 100 से कम कर्मचारी हैं और 90 फीसदी कर्मचारियों का वेतन 15 हजार रुपये से कम है. 4 लाख से ज्यादा संस्थानों को फायदा होगा।

निर्माण क्षेत्र से जुड़े 3.5 करोड़ रजिस्टर्ड वर्कर जो लॉकडाउन की वजह से आर्थिक दिक्कतें झेल रहे हैं, उन्हें मदद दी जाएगी. इनके लिए 31000 करोड़ रुपए का फंड रखा गया है.

डिस्ट्रिक मिनरल फंड राज्य सरकारों के पास रहता है, इसका उपयोग जांच, दवाओं, उपचार के लिए हो ताकि कोरोना से लड़ने में सफल हो सकें.

पीएफ फंड रेग्युलेशन में संशोधन किया जाएगा. कर्मचारी जमा रकम का 75% या तीन महीने के वेतन में से जो भी कम होगा, निकाल सकेंगे.

Leave a Reply

%d bloggers like this: