जानिए FATHER’S DAY मनाने के पीछे की कहानी

बच्चों को खुश करने के लिए खुद बन जाते हैं खिलौना….

अगर बच्चों को आ जाए नींद तो बन जाते हैं बिछौना

हर साल की तरह जून महीने के तीसरे संडे को इस बार भी फादर्स डे मनाया जा रहा है. फादर्स डे मनाने का ट्रेंड पूरी दुनिया में है और हर घर में फादर्स डे बहुत ही प्यार से मनाया जाता है. इस बार फादर्स डे 16 जून को मनाया जा रहा है. ये दिन पिता के त्याग और बलिदान के लिए समर्पित होता है इसलिए इस दिन पिता को स्पेशल फील कराया जाता है.

पिता के लिए मनाए जाने वाले इस स्पेशल डे की शुरुआत कब, कैसे और कहां हुई आज हम आपको इसके बारे में बताएंगे.

क्यों मनाया जाता है Father’s Day

साल 1909 में सोनोरा लुईस स्मार्ट डॉड (Sonora Louise Smart Dodd) नाम की 16 साल की लड़की ने फादर्स डे मनाने की शुरुआत की थी. दरअसल, जब सोनोरा 16 साल की थी तब उसकी मां उसे और उसके पांच छोटे भाइयों को छोड़कर चली गई थी. इसके बाद पूरे परिवार की जिम्मेदारी उसके पिता पर आ गई. सोनोरा के पिता ने अपनी जिम्मेदारियों को बहुत अच्छे से निभाया इसलिए उसने मदर्स डे के बारे में सुना तभी उसने सोचा कि एक ऐसा दिन भी होना चाहिए जो पिता के नाम हो.

सोनोरा ने फादर्स डे मनाने के लिए एक याचिका दायर की जिसमें उसने लिखा कि उसके पिता का जन्मदिन जून में आता है इसलिए वो जून में ही फादर्स डे मनाना चाहती है. इस याचिका के लिए दो हस्ताक्षरों की जरुरत थी जिसके लिए उसने आस-पास मौजूद चर्च के सदस्यों को भी मनाया पर फादर्स डे मनाने की मंजूरी नहीं मिली. सोनोरा ने हार नहीं मानी और यूएस तक में कैंपेन चलाया. इस तरह 19 जून 1910 को पहली बार फादर्स डे मनाया गया.

Leave a Comment

%d bloggers like this: