मुकदमें वापस लेने की मांग को लेकर किसानों ने शुरू की भूख हड़ताल

फतेहाबाद, हरियाणा।

पराली जलाने पर किसानों के खिलाफ दर्ज किए गए मुकदमों को वापस लेने, बरसात व ओलावृष्टि से खराब हुई फसलों का मुआवजा देने व किसानों की अन्य समस्याओं को लेकर किसान संघर्ष समिति के आह्वान पर किसानों ने शुक्रवार को लघु सचिवालय के बाहर 24 घंटे की भूख हड़ताल शुरू कर दी है. 

किसान संघर्ष समिति ने मुकदमें रद्द न होने तक आंदोलन को तेज करने का फैसला लिया है. आज धरने की अध्यक्षता 80 वर्षीय किसान बलदेव सिंह ने की और भूख हड़ताल में शामिल हुए. संघर्ष समिति के नेता मनदीप नथवान ने बताया कि 80 वर्षीय बलदेव सिंह के खिलाफ भी प्रशासन ने झूठा पर्चा दर्ज कर रखा है. 

उन्होंने कहा कि आज धरना स्थल पर सर्वसम्मति से फैसला लिया गया कि सरकार की इन नीतियों के विरोध में गांव-गांव में सीएम के पुतले फूंके जाएंगे. इस कड़ी में 1 दिसम्बर को गांव हसंगा में मुख्यमंत्री का पुतला जलाया जाएगा और किसानो को धरना स्थल पर पहुंचने की अपील की जाएगी. 

उन्होंने कहा कि आज 11 किसान 24 घंटे की भूख हड़ताल पर बैठे, जिनमें बलबीर सिंह, दर्शन सिंह, बलदेव सिंह, मनदीप नथवान, दुला सिंह, बाबू सिंह, महेंद्र सिंह, कुलदीप सिंह, सुखविंदर सिंह, बलविंदर सिंह, दलीप सिंह शामिल है. 

हिन्दुस्थान समाचार/अर्जुन

Leave a Reply