अंतरिम बजट से क्या है किसानों को आस?

नई दिल्ली. मोदी सरकार के कार्यकाल का आखिरी बजट 1 फरवरी 2019 को पेश होगा. आम चुनाव 2019 से पहले पेश हो रहे अंतरिम बजट पर पूरे देश की नज़र है. वित्त मंत्री संसद भवन पहुंच चुके हैं

इसमें नौकरीपेशा और किसानों से लेकर व्यापारी वर्ग तक के लिए घोषणाएं होने की संभावना है.
बजट में ये मिल सकते हैं तोहफे-

  • लोकसभा चुनाव की घोषणा से महज एक महीने पहले पेश होने वाले अंतरिम बजट के लोक लुभावन होने की पूरी संभावना है. किसानों के लिए इनकम सपोर्ट प्रोग्राम की घोषणा हो सकती है.
  • किसान क्रेडिट कार्ड पर 5 लाख रुपये तक के लोन पर ब्याज छूट का ऐलान हो सकता है.
  • सरकार लघु और सीमांत किसानों को 4 या 5 हजार रुपये प्रति एकड़/ प्रति वर्ष की मदद करने की घोषणा की जा सकती है.
  • कम ब्याज दरों पर एग्री क्रेडिट फ्लो में बढ़ोतरी जैसे उपाय भी संभव हैं.
  • एमएसपी के सीधे खाते में पहुंचाने और फसल कर्ज को लेकर घोषणाएं की जा सकती हैं.
  • खाद्य फसलों के लिए बीमा पॉलिसी लेने वालों किसानों के लिए पूरी तरह से प्रीमियम माफ करने का प्रस्ताव है.
  • वित्त मंत्री पीयूष गोयल मौजूदा सरकार का आखिरी और अंतरिम बजट शुक्रवार सुबह 11 बजे से पेश करेंगे.
  • किसानों की आय में बढ़ोत्तर
%d bloggers like this: