फेसएप से मडरा रहा ये बड़ा खतरा, इंटरनेट पर अपलोड हो रही आपकी पर्सनल फोटो

नई दिल्ली.क्या आप भी जानना चाहते हैं कि बुढ़ापे में आप कैसे दिखेगें.आपका चेहरा, आपकी दाढ़ी, और आपकी मूछे कैसी हो जाएंगी.सिर्फ आप ही नहीं बहुत सारे लोग हैं जो ये जानना चाहते हैं कि वे बूढ़े हो जाएंगे तो कैसे दिखेगें.इसके लिए सोशल मीडिया पर इन दिनों एक फेस एप काफी वायरल हो रहा है.ये एप दुनिया भर में धूम मचा रहा है और लोगों को अपना दिवाना बना रहा है.

इस एप के जरिए लोग अपने बुढ़ापे की तस्वीर देख सकते हैं.वो ये जान सकते हैं कि आने वाले दिनों में वो कैसे दिखाने वाले हैं.इस एप से अपनी फोटों को एडिट कर लोग उसे सोशल मीडिया पर पोस्ट कर रहे हैं. सोशल मीडिया पर फेस एप की तस्वीरे अंधाधुंध पोस्ट की जा रही हैं.

आप ने भी अपने फेसबुक ट्वीटर और इंस्टग्राम पर अपने दोस्तों और बॉलीवुड सेलेब्रिटीज की बुढ़ापे की पिक्टर्स देखी होगी.दरअसल यह एप आर्टिफिशल इंटेलिजंस की मदद से किसी शख्स को जवान या फिर बूढ़ा दिखा सकता है.यहां तक इस एप से जेंडर भी चेंज किया जा सकता है.
लेकिन क्या आपने कभी सोचा है कि यह रशियन एप आपकी तस्वीरों के साथ क्या कर सकता है.यानी जब आप अपनी तस्वीर फेसएप के सर्वर पर सबमिट कर देते हैं.तब आपके फोटोज के साथ क्या होता है.क्या आपको पता है कि ये एप आपका डेटा चुरा रहा है.शायद नहीं और आपने कभी इस बारे में सोचा भी नहीं होगा..कैम्ब्रिज एनालिटिका और उसके बाद हुए ना जानते कितने ही डाटा चोरी के मामलों के बाद भी हम सतर्क नहीं हुए हैं.

फेसबुक डेटा चोरी को लेकर देश में कई दिनों तक बवाल हुआ.लेकिन इसके बावजूद भी आज जब हम किसी एप को डाउनलोड करते हैं तो हम उसकी टर्म और पॉलिसी को जानना जरूरी नहीं समझते हैं और यहीं हमारी सबसे बड़ी गलती होती है. तो चलिए जानते हैं इसकी टर्म्स और कंडीशंस के बारे में.

इस एप की पॉलिसी ये साफ कहती है कि यूजर की फोटोद और डेटा कंपनी के पास रहेगी और इसे एड्स के लिए नहीं बेचा जाएगा.हालांकि यहां ये भी कहा गया है कि अगर इस ग्रुप की कंपनी को इसकी जरूरत पड़े तो वो यूजर का डेटा यूज कर सकती है.इसका मतलब यह है कि भविष्य में आपके फोटोज का इस्तेमाल सार्वजनिक रूप से किया जा सकता है .

एप की पॉलिसी से साफ होता है कि आपके डेटा का इस्तेमाल आपकी लाइकनेस के आधार पर टेलिमार्केटिंग,ऐड्स और मार्केटिंग के कामों के लिए किया जा सकता है.ये तो रही एप की टर्म्स और कंडिशंस के बारे में बता.इसके अलावा भी इस एप के बारे में कई और बाते हैं..जो शायद आप नहीं जानते हैं.

इस एप को लेकर ये भी कहा है कि यह एप आपकी आदतों और रुचियों को समझने की कोशिश कर रहा है.ताकि ऐड्स में इस्तेमाल किया जा सके.इसे मार्केटिंग के हथियार के तौर पर भी देखा जा रहा है.कई लोग इस एप को लेकर यह भी कह रहे हैं कि यह एप आपके फोन की सारी तस्वीरों तक पहुंच सकता है.तो वहीं कई लोगों ने यह दावा किया है कि ये एप खोलते ही इंटरनेट पर सारी तस्वीरे अपलोड होने लगी.

एक तरफ जहां फेस एप को लेकर अफवाहों का बाजार तेजी से गर्मा रहा है वहीं दूसरी तरफ फेस एप ने इन सभी चिंताओं को सिरे से खारिज कर दिया है.इसके फाउंडर का कहना है कि इससे यूजर्स को प्राइवेसी का कोई खतरा नहीं है.उन्होंने कहा है कि कंपनी यूजर का डेटा किसी थर्ड पार्टी को सेल नहीं करती है.अगर यूजर चाहें तो फेस एप से अपना डेटा डिलीट भी कर सकता है.कंपनी का कहना है कि यूजर्स जिन तस्वीरों को चुन रहे हैं.उन्ही की एडिटींग की जा रही है. उसके अलावा एप किसी और तस्वीर तक नहीं पहुंच रहा है.

आपको बता दें कि ये एप रूस का है.इसे 14 फरवरी साल 2017 में लॉन्च किया गया था.उस समय तो ये ज्यादा कुछ खास फेमस नहीं हो पाया था.लेकिन अभी ये एप काफी फेमस हो रहा है.अमेरिका और रूस एक दूसरे के राइलव हैं.इन दोनों देशों के रिश्ते बेहतर नहीं है.ऐसे में अमेरिका सेनेट माइनॉरिटी लीडर chuck schummer ने फेसएप को लेकर इंवेस्टिगेशन की मांग की है.उन्हें ऐसा लगता है कि ये एप परेशानी वाला है और अमेरिकी लोगों का पर्सनल डेटा दूसरे देश के पास जा रहा है.उनका इशाफ साफ है.यानी वो कह रहे हैं कि इसके जरिए अमेरिकी लोगों का डेटा रूस जा रहा है.उन्हेंने कहा है कि इस एप की जांच एफबीआई और एफटीसी को करना चाहिए.

बता दें कि गूगल प्ले से 100,000 मिलियन से भी ज्यादा लोगों ने इस ऐप को डाउनलोड किया है. इसी के साथ FaceApp अब 121 देशों में आईओएस ऐप स्टोर में टॉप-रैंक ऐप में से एक है.साथ ही ये एप जमकर कमाई कर रहा है

ऐसे में ये सब जानकर आपके मन में ये सवाल उठा होगा कि आपको ये एप यूज करना चाहिए या नही.तो आपको बता दें कि ये एप फन के लिए है. ये सच है कि आपकी फोटोज पर इसका ऐक्सेस होता है और आपकी बायोमेट्रिक डीटेल्स भी इसके पास जाती हैं……. प्राइवेसी के लिहाज से देखें और आप प्राइवेसी को पसंद करते हैं तो आप इससे बच सकते हैं. लेकिन ऐसा भी नहीं है कि ये ऐप आपके लिए बड़े खतरे की घंटी है.

Leave a Comment