अपने ही देश में घिरे इमरान खान, पाकिस्तान में चरम पर सरकार विरोधी आंदोलन

imran khan
Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on whatsapp
WhatsApp

पाकिस्तान मुस्लिम लीग (नवाज) के नेता और पाकिस्तान के पूर्व विदेश मंत्री ख्वाजा आसिफ ने कहा है कि जब पाकिस्तान डेमोक्रेटिक मूवमेंट का सरकार विरोधी आंदोलन चरम पर होगा, तब पीएमएल (एन) के सारे सांसद नेशनल असेंबली से इस्तीफा दे देंगे.

आसिफ पीएमएल (एन) के कन्वेंशन ऑफ पार्लियामेंटेरियंस एंड टिकट होल्डर्स को संबोधित कर रहे थे. उन्होंने इमरान सरकार की आलोचना करते हुए कहा कि अर्थव्यवस्था को पूरी तरह से खत्म कर दिया है. इमरान सरकार लोगों के अपेक्षा पर खरी नहीं उतरी और उसने कोरोना वायरस महामारी के दौरान लोगों को उनके हाल पर छोड़ दिया.

इमरान सरकार विपक्षी दलों के विभिन्न नेताओं पर कार्रवाई कर रही है. जिसमें ताजा मामला पीएमएल (एन) नेता नवाज शरीफ, उनकी बेटी मरियम और पाक अधिकृत कश्मीर के प्रीमियर राजा मोहम्मद फारूक अहमद खान के खिलाफ देशद्रोह का मामला है.

नवाज शरीफ के खिलाफ स्थानीय एक युवक ने शाहादरा पुलिस स्टेशन में एफआईआर दर्ज कराई थी. उसका आरोप था कि नवाज शरीफ विदेश में बैठकर वर्चुअल माध्यम से भड़काऊ बयान दे रहे हैं और पाकिस्तान के विभिन्न संस्थाओं की छवि धूमिल कर रहे हैं. फिलहाल, शरीफ की बेटी, खान और तीन रिटायर्ड जनरल के साथ कुल 40 पीएमएल (एन) नेताओं के नाम एफआईआर में दर्ज हैं.

हिन्दुस्थान समाचार/मुरारी