World Cup 2019 Final-क्रिकेट को इंग्लैंड के रुप में मिला नया विश्व विजेता,पहली बार जीता विश्व कप

आईसीसी विश्व कप का फाइनल मुकाबला आज न्यूजीलैंड और इंग्लैंड के बीच होना है. लॉर्ड्स में खेला जा रहा है. इस मुकाबले में जो जीतेगा, वो पहली बार वर्ल्ड चैम्पियन बनेगा. जिसमें न्यूजीलैंड ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया. विश्व कप 2019 खिताब इंग्लैंड ने अपने नाम किया. विश्व कप के इतिहास में ये पहली बार हुआ की विश्व विजेता चुनने के लिए सुपर ओवर का सहारा लेना पड़ा हो. और सुपर ओवर में भी दोनो टीमें बराबर पर ही रहीं दोनो ही टीमों ने 6-6 गेंदों में 15 रन बनाए जिसके बाद बाउंड्री के हिसाब से इंग्लैंड को जीत का हकदार माना गया.

वर्ल्ड कप के फाइनल मुकाबले में सुपर ओवर टाई हो गया, जिसके बाद इंग्लैंड की बाउंड्रीज की संख्या ज्यादा होने के कारण उसे विजेता घोषित किया गया. इंग्लैंड ने न्यूजीलैंड को सुपर ओवर में 16 रनों का टारगेट दिया था, जिसके बाद न्यूजीलैंड ने भी 6 गेंद में 16 रन बनाए.

इस मैच में न्यूजीलैंड ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी का फैसला किया. पहले बल्लेबाजी करते हुए फाइनल मुकाबले में न्यूजीलैंड की टीम ने निर्धारित 50 ओवर में 8 विकेट पर 241 रन बनाए. इंग्लैंड को जीत के लिए 242 रन बनाने थे, लेकिन ये टीम 50 ओवर में दस विकेट पर 241 रन बना पाई और मैच टाई हो गया.

विश्व कप के इतिहास में ये पहला मौका है जब कोई फाइनल मैच टाई हुआ। इससे पहले ऐसा कभी नहीं हुआ था। इंग्लैंड की टीम को इस मैच में जीत के लिए पारी की आखिरी गेंद पर दो रन बनाने थे. क्रीज पर मौजूद बेन स्टोक्स ने शॉट लगाया और मार्क वुड के साथ एक रन पूरा किया. इसके बाद दोनों बल्लेबाज दूसरे रन से लिए दौड़ पड़े पर मार्क वुड रन आउट हो गए और मैच बराबरी पर खत्म हुआ. 

सुपर ओवर में इंग्लैंड की तरफ से बल्लेबाजी करने के लिए बेन स्टोक्स और जोस बटलर आए। न्यूजीलैंड की तरफ से ये ओवर ट्रेंट बोल्ट ने डाला. इस ओवर में कुल 15 रन बने और न्यूजीलैंड को जीत के लिए 16 रन का लक्ष्य मिला.

इंग्लैंड की तरफ से सुपर ओवर में जोफ्रा आर्चर ने थामी गेंद. न्यूजीलैंड की तरफ से मार्टिन गप्टिल और जिमी नीशाम बल्लेबाजी के लिए उतरे. अगर सुपर ओवर में भी स्कोर बराबर रहता है तो जिस टीम ने सबसे ज्यादा बाउंड्री लगाई होगी उसे विजेता घोषित कर दिया जाएगा. जिसके बाद न्यूजीलैंड ने भी 6 गेंद में 16 रन बनाए और इंग्लैंड को विश्व कप का विजेता घोषित कर दिया गया.

इंग्लैंड को छठे ओवर में पहला झटका लगा. मैट हेनरी ने जेसन रॉय को 17 रन के निजी स्कोर पर टॉम लाथम के हाथों विकेट के पीछे कैच कराया. 6 ओवर के बाद इंग्लैंड का स्कोर 28/1 है.

जेसन रॉय और जॉनी बेयरस्टो ने इंग्लैंड की तरफ से पारी की शुरुआत करने के लिए क्रीज पर उतरे हैं. न्यूजीलैंड की तरफ से ट्रेंट बोल्ट ने गेंदबाजी की कमान संभाली है.

न्यूजीलैंड की पारी के 7वें ओवर की दूसरी गेंद पर क्रिस वोक्स ने न्यूजीलैंड को पहला झटका दिया. उन्होंने खतरनाक नजर आ रहे मार्टिन गप्टिल को 19 रन के निजी स्कोर पर पवेलियन भेजा. गप्टिल ने 18 गेंदों में 2 चौक और 1 छक्के की मदद से 19 रन बनाए.

हालांकि, इस गेंद पर उन्होंने अंपायर के फैसले के खिलाफ रिव्यू लिया लेकिन रिप्ले में देखा गया कि वो साफ तौर पर आउट थे. इस प्रकार न्यूजीलैंड ने अपना डीआरएस खो दिया.

टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी का फैसला करने वाली कीवी टीम के लिए हेनरी निकोलस ने अर्धशतक जमाया जिसकी बदौलत कीवी टीम 50 ओवरों में 8 विकेट खोकर 241 रन बना सकी. निकोलस ने 77 गेंदों का सामना कर 4 चौकों की मदद से 55 रनों की पारी खेली. टॉम लाथम ने 47 और कप्तान केन विलियम्सन ने 30 रनों का योगदान दिया. इंग्लैंड के लिए क्रिस वोक्स और लियाम प्लकंट ने 3-3 विकेट लिए.

23वें ओवर में न्यूजीलैंड की टीम को दूसरा झटका लगा और उनके कप्तान केन विलियमसन 30 रन बनाकर आउट हो गए. इस गेंद पर साफ तौर पर देखा गया कि गेंद विलियमसन के बल्ले से लगकर विकेटकीपर के हाथों में पहुंची. लेकिन अंपायर कुमार धर्मसेना ने उन्हें नॉट आउट करार दिया. इसके बाद इंग्लैंड के कप्तान इयोन मॉर्गन ने डीआरएस लिया और केन विलियमसन को पवेलियन की ओर लौटना पड़ा

न्यूजीलैंड ने धीमी शुरुआत की है. 15 ओवर के बाद न्यूजीलैंड की टीम ने 1 विकेट खोकर 63 रन बना लिए हैं. केन विलियमसन और हेनरी निकोल्स क्रीज पर हैं.

क्रिकेट को एक नया विश्व चैम्पियन मिलेगा जब रविवार को खिताब के लिये क्रिकेट का जनक इंग्लैंड और हमेशा ‘अंडरडाग’ मानी जाने वाली न्यूजीलैंड टीम एक दूसरे के सामने होंगे. इंग्लैंड ने 1966 में फीफा विश्व कप जीता लेकिन क्रिकेट में उसकी झोली खाली रही . फुटबाल में गैरी लिनाकेर से लेकर डेविड बैकहम और हैरी केन तक ,कोई उसके बाद इंग्लैंड के लिये ‘कप’नहीं जीत सका.

अगर दोनों टीमों की बात करें तो ये पहला मौका होगा जब इंग्लैंड में क्रिकेट को लेकर उसके हक की लोकप्रियता मिलेगी. वहीं न्यूजीलैंड की टीम के कूल कप्तान केन विलियमसन के पास भी बड़े मैच में टीम को संभालने की जिम्मेदारी होगी.

हालांकि दोनों ही टीमों ने सेमिफाइनल में बड़ी टीमों को हराया है. ऐसे में इंग्लैंड और न्यूजीलैंड के हौसले भी बुलंद होंगे.

इंग्लैंड को इस बार शुरू से ही बड़ा दावेदार माना जा रहा है. मेजबान टीम ने ऑस्ट्रेलिया को आठ विकेट से करारी मात दी है. वहीं न्यूजीलैंड ने भी रोमांचक मुकाबले में भारत को 18 रनों से हराया है.

देखा जाए तो मेजबान होने के नाते इंग्लैंड को उसकी घरेलू परिस्थितियों का फायदा मिलेगा. वहीं न्यूजीलैंड ने जिस तरह से भारत को हराया है उसे देखकर सब कुछ अनिश्चित लग रहा है.

आज के मैच में कप्तान केन विलियमसन पर अधिक जिम्मेदारी होगी. वहीं फाइनल मुकाबला आज इंग्लैंड और न्यूजीलैंड के बीच खेला जाएगा. लंदन के लॉर्ड्स मैदान पर मैच होगा. भारतीय समय के मुताबिक दोपहर 3 बजे से मैच शुरू होगा.

दोनो टीमें इस प्रकार


न्यूजीलैंड-केन विलियमसन (कप्तान), मार्टिन गप्टिल, हेनरी निकोलस, रॉस टेलर, जेम्स नीशाम, टॉम लाथम (विकेटकीपर), कोलिन डी ग्रैंडहोम, मिशेल सेंटनर, मैट हेनरी, ट्रेंट बोल्ट, लॉकी फर्ग्यूसन.

इंग्लैंड-इयोन मॉर्गन (कप्तान), जेसन रॉय, जोस बटलर (विकेटकीपर), जॉनी बेयरस्टो, जो रूट, बेन स्टोक्स, क्रिस वोक्स, लियाम प्लंकेट, जोफ्रा आर्चर, आदिल राशिद, मार्क वुड.

1 thought on “World Cup 2019 Final-क्रिकेट को इंग्लैंड के रुप में मिला नया विश्व विजेता,पहली बार जीता विश्व कप”

Leave a Comment

%d bloggers like this: