गांव में हाथी ने उत्पात कर तीन घर तोड़े, मां-बेटी घायल

खूंटी

जिले के तोरपा प्रखंड की अम्मा पंचायत के कोरकोटोली गांव में शनिवार की देररात अपने झुंड से बिछड़े जंगली हाथी ने जमकर उत्पात मचाया. हाथी ने तीन घरों को तोड़ दिया और घर में रखे कई क्विंटल चावल, मड़ूवा सहित अन्य अनाज खा गया.

साथ ही घर के अन्य सामानों को तोड़फोड़ डाला. हाथी के मकान तोड़ने के दौरान मलबे में दबकर सलोमी टोपनो नामक एक महिला और उसकी बेटी घायल हो गयी. घायल महिला को रेफरल अस्पताल में भर्ती कराया गया है. जानकारी के अनुसार तोरपा क्षेत्र में 15-20 जंगली हाथियों का झुंड विचरण कर रहा है.

शनिवार देर रात झुंड से बिछड़कर एक हाथी अम्मा गांव में रात लगभग एक बजे घुस आया. हाथी ने पतरस तोपनो, अधनु तोपनो और हरीश्चंद्र सिंह के घरों को तोड़ दिया. जिस समय हाथी पतरस के घर को तहस-नहस कर रहा था, उस समय उसकी पत्नी सालोमी तोपनो अपने चार बच्चों के साथ सो रही थी.

इसी बीच हाथी ने घर की दीवार तोड़ दी. दीवार गिरने से सालोमी और उसकी दो वर्षीय बच्ची दब गयी. किसी तरह जल्दबाजी में दोनों को खींचकर निकाला गया. घटना की सूचना मिलते ही मुखिया जुलयानी तोपनो वहां पहुंच गई.

मुखिया ने पीड़ित परिवारों के लिए वन विभाग से मुआवजे की मांग की है. जानकारी मिलने पर वनपाल केदारराम भी घटनास्थल पर पहुंच गए और मुआवजा दिलाने का आश्वासन दिया.

हिन्दुस्थान समाचार/अनिल

%d bloggers like this: