#Election2019: बीजेपी उम्मीदवार जीतूभाई वघानी पर गिरी गाज, प्रचार पर लगी 72 घंटे की रोक

नई दिल्ली. चुनाव आयोग ने आचार संहिता का उल्लंघन करने पर बीजेपी के गुजरात प्रमुख जीतूभाई वघानी पर 72 घंटे तक प्रचार करने पर रोक लगा दी है.

लोकसभा चुनाव में किसी प्रकार का कोई राजनीतिक दल आचार संहिता का उल्लंघन न कर पाए इसको लेकर चुनाव आयोग कड़ी नजर बनाए हुए हैं. इस कड़ी में चुनाव आयोग ने जीतूभाई वघानी को आचार संहिता उल्लंघन के मामले को लेकर एक नोटिस जारी किया है. वघानी द्वारा एक चुनावी सभा में अभद्र भाषा का इस्तेमाल करने के आरोप में आयोग ने उन पर 72 घंटे तक प्रचार करने की रोक लगाई है.

उन पर प्रतिबंध दो मई को शाम चार बजे से लागू होगा. गुजरात में लोकसभा चुनाव तीसरे चरण में 23 अप्रैल को हुआ था. राज्य में एक चरण में सभी लोकसभा सीटों पर चुनाव हुआ था. चुनाव आयोग के मुताबिक सात अप्रैल को सूरत के अमरोली की एक चुनाव सभा में जीतूभाई वघानी ने पार्टी कार्यकर्ताओं और मतदाताओं को संबोधित करते हुए आचार संहिता के उल्लंघन साथ ही अशोभनीय भाषा का इस्तेमाल किया था.

इसको लेकर चुनाव आयोग ने वघानी को 72 घंटे तक देश के किसी भी हिस्से में जनसभा रोड शो तथा किसी भी प्रकार की चुनावी गतिविधियों में हिस्सा लेने पर रोक लगा दी है.

2019 लोकसभा चुनाव जारी है. चुनाव सात चरणों में होने हैं. जिसमें चार चरणों में चुनाव हो चुके हैं और तीन चरणो में चुनाव होने बाकी हैं. बता दें कि चुनाव के नतीजे 23 मई को आने हैं. जिसको लेकर जोर शोर से तैयारी चल रही है. हर पार्टी के नेता चुनावो को जीतने के लिए पूरा जोर दिखा रहे हैं. इसमें कुछ नेता अपशब्दो का इस्तेमाल करते हैं और कुछ बिना अनुमति के प्रचार कर रहे हैं.

हिन्दुस्थान समाचार/वीरेन /दधिबल

%d bloggers like this: