एकता कपूर ने बालाजी टेलीफिल्म्स की तरफ से सुशांत को दी श्रद्धांजलि, सोशल मीडिया पर लिखा भावुक पोस्ट

d6091a5744336da2fcd8a14b65016be25ee60cd28a85884130042f32ac3c71fa_1
Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on whatsapp
WhatsApp

 

 नई दिल्ली:  एक्टर सुशांत राजपूत के निधन से हर कोई सदमे में है. वहीं एकता कपूर ने सुशांत के निधन के बाद उन्हें बालाजी टेलीफिल्म्स की तरफ से श्रद्धांजलि अर्पित की है. उन्होंने इंस्टाग्राम पर एक वीडियो शेयर किया है, जिसमें उन्होंने सुशांत के साथ बिताए यादगार क्षणों और धारावाहिक ‘पवित्र रिश्ता’ की कुछ झलकियों को दिखाया है. इसके साथ ही एकता ने एक भावुक नोट भी लिखा है.

एकता ने लिखा-‘मैं बालाजी टेलीफिल्म्स की तरफ से  कुछ तस्वीरों के जरिये श्रद्धांजलि अर्पित करती हूं. इसने मुझे सोचने पर विवश कर दिया कि हम जिनके बारे में सोचते हैं, क्या उनके लिए वास्तव में उनके लिए मौजूद हैं. क्या हम वाकई लोगों को जानते हैं या जो सामान्य से अलग हैं, उन्हें बस जज करते रहते हैं.

आगे एकता ने लिखा तुम ज्योतिष, अंतरिक्ष विज्ञान और मेटा फिजिक्स के अलावा अपनी अगली हिट के बारे में कभी नहीं बोले. शिव का मतलब और नासा की खोजें. एक एक्टर के लिए विचित्र. एक जीनियस अलग यात्रा पर. पृथ्वी कैफे में बालाजी टीम को मिलने से लेकर देश के सबसे चमकते  सितारों में से एक, तुमने सब किया. हम तुम्हारी यादों का जश्न मनाते रहेंगे. उम्मीद है, तुम अपनी मां के साथ होंगे, जिन्हें तुम इतना याद करते थे.’

सुशांत को लेकर एकता का ये पोस्ट काफी भावुक कर देने वाला है. सुशांत सिंह राजपूत ने अपने करियर की शुरुआत साल 2008 में  एकता कपूर निर्मित धारावाहिक ‘जिस देश में है मेरा दिल’ से की थी, जो बालाजी टेलीफिल्म्स के बैनर तले बानी थी. इसके बाद वो जीटीवी पर प्रसारित होने वाले एकता कपूर की धारावाहिक ‘पवित्र रिश्ता’ में लीड रोल में नजर आए.

इस धारावाहिक में मानव का किरदार निभाकर वो घर-घर में मशहूर हुए. इसके बाद उन्होंने साल 2013 में फिल्म ‘काई पो छे’ से बॉलीवुड में कदम रखा. सुशांत ने अपने सात साल के फिल्मी करियर में कई महत्पूर्ण फिल्में की और कामयाबी की सीढ़ियां चढ़ते गए. सुशांत ने दर्शकों के दिलों पर अपनी खूबसूरत मुस्कुराहट और शानदार एक्टिंग से अपनी प्रतिभा की अमिट छाप छोड़ी.

सुशांत सिंह राजपूत अब हमारे बीच नहीं रहे और अब अगर कुछ है तो वो है उनकी यादे, जो दर्शकों के दिलों में सदैव जीवित रहेगी.

हिन्दुस्थान समाचार/ सुरभि सिन्हा