चांद का हुआ दीदार, 12 अगस्त को मनाई जाएगी बकरीद

नई दिल्ली. भारत में ईद-उल-जुहा का चांद दिख चुका है.इसी के साथ ईद की तारीख भी सामने आ गई है. देशभर में 12 अगस्त को बकरीद का त्यौहार मनाया जाएगा.इस्लाम धर्म के अनुसार इस त्यौहार में जानवरों की कुर्बानी दी जाती है. साथ ही इस महीने हज किया जाता है.

आपको बता दें कि ईद-उल-जुहा का चांद जिस रोज नजर आता है ठीक उसके दसवें दिन बकरीद मनाई जाती है. ईद उल जुहा या बकरीद,ईद उल फित्र के दो महीने नौ दिन बाद मनाई जाती है.
ईद-उल-फितर के बाद इस्लाम धर्म का यह दूसरा सबसे प्रमुख त्यौहार है.इसे बकरीद के नाम से भी जाना जाता है.

बता दें कि ईद-उल-जुहा हजरत इब्राहिम की कुर्बानी की याद के तौर पर मनाया जाता है. इस मौके पर जानवरों की कुर्बानी तीन दिनों तक चलती है.यानी ईद-उल-जुहा के मौके पर अब 12 से लेकर 12 अगस्त सूर्यास्त से पहले तक कुर्बानी दी जाएगी.

ईद-उल-जुहा के मौके पर हजरत इब्राहिम अल्लाह के हुक्म पर अल्लाह के प्रति अपनी वफादरी दिखाने के लिए अपने बेटे हजरत इस्माइल को कुर्बान करने पर राजी हुए थे.इस त्यौहार का मुख्य उद्देश्य लोगों में जनसेवा और अल्लाह की सेवा का भाव जगाना है.

फतेहपुरी मस्जिद के शाही इमाम मौलाना मुफ्ती मुकर्रम अहमद ने बताया है कि दिल्ली और उत्तर प्रदेश के अलग-अलग शहरों समते देश के कई हिस्सों में चांद नजर आ गया है. जिसकी वजह से 12 अगस्त को बकरीद मनाई जाती है.

Leave a Reply