उद्धव को राहत की सांस, EC ने दी महाराष्ट्र में MLC चुनाव कराने की मंजूरी

Uddhav Thackeray | Samachar In Hindi
Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on whatsapp
WhatsApp

नई दिल्ली. महाराष्ट्र (Maharashtra) के सीएम उद्दव ठाकरे की कुर्सी पर जो खतरा मंडरा रहा था वो अब टलता नजर आ रहा है. चुनाव आयोग ने राज्य में विधान परिषद चुनाव करने की मंजरी दे दी है. राज्य के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी के अनुरोध पर चुनाव आयोग ने ये फैसला किया है.

चुनाव आयोग (EC) ने कहा है कि अधिसूचना जारी कर दी जाएगी और 21 दिनों के अंदर चुनाव को संपन्न करा लिया जाएगा. 27 मई से पहले सारी प्रक्रिया पूरी हो जाएगी.

राज्य के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी (Governor Bhagat Singh Koshyari) ने कहा था कि राज्य में मौजूदा संकट को खत्म को देखते हुए विधान परिषद की सीटों का ऐलान हो,जो 24 अप्रैल से खाली हैं.

उद्धव ठाकरे के लिए 27 मई से पहले एमएलसी (MLC) बनना जरूरी है क्योंकि अगर उन्हें विधान परिषद की कुर्सी नहीं मिलती है तो उन्हें अपनी सीएम पद (CM) की कुर्सी छोड़नी पड़ेगी. उद्धव ठाकरे बिना चुनाव लड़े ही सीधे सीएम बने हैं, ऐसे में उन पर यह नियम लागू होता है.

उद्धव फिलहाल विधानमंडल के किसी सदन के सदस्य नहीं है. 28 नवंबर 2019 को उन्होंने मुख्यमंत्री पद की शपत थी थी. लिहाजा उन्हें शपथ ग्रहण करने के छह महीने के अंदर ही विधानसभा या विधानपरिषद के सदस्य के रूप में निर्वाचित होना जरूरी है.

इससे पहले शुक्रवार सुबह महाराष्ट्र दिवस (Maharashtra Day) के मौके पर उद्धव ठाकरे ने राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी से राजभवन जाकर मुलाकात की थी.