Recruitment in DU on hold due to 10% reservation
Recruitment in DU on hold due to 10% reservation

Delhi University (DU) में बीते काफी समय से नई रिक्रूटमेंट पर ब्रेक लगा हुआ है. DU से जुड़े कॉलेजों में टीचिंग पोस्ट पर लंबे समय से नई रिक्रूटमेंट नहीं हो रही है.

रिक्रूटमेंट के इंतजार में बैठे कैंडिडेट्स को उम्मीद थी कि अप्रैल में परमानेंट रिक्रूटमेंट का प्रोसीजर शुरु होगा. इसके लिए आर्थिक रूप से कमजोर वर्गों के लिए आए 10 फीसदी आरक्षण की वजह से शिक्षकों की नियुक्तियों पर ग्रहण लग गया है.

 DU की एकेडेमिक काउंसिल के मेंबर रह चुके प्रो. हंसराज सुमन ने इस बारे में बताया कि हाल ही में आर्थिक रूप से पिछड़े वर्गों को 10 फीसदी आरक्षण दिए जाने के संबंध में डीओपीटी का सर्कुलर आया है. इस सर्कुलर में लिखा गया है कि इसे लागू करते हुए टीचिंग और नॅान टीचिंग पोस्ट पर रिक्रूटमेंट की जानी है.

उन्होंने बताया कि डीओपीटी सर्कुलर के आधार पर DU के भर्ती विभाग के उपकुलसचिव ने सर्कुलर जारी किया है. इस सर्कुलर में उन्होंने कहा कि आर्थिक रूप से पिछड़े वर्ग संबंधी नीति को ध्यान में रखकर उसे सीधी भर्ती देने का आदेश जारी किया है. एक फरवरी 2019 से इसे लागू करने का काम शुरु हो गया है.

उन्होंने कहा कि ईडब्ल्यूएस कोटे को लेकर अब नया रोस्टर बनाया जाएगा. वहीं नियमों की अनदेखी न हो इसके लिए 10 फीसदी आरक्षण को लागू करके नये आरक्षण रोस्टर को सार्वजनिक करने की मांग भी की गई है. इससे संबंधित रिक्त पोस्टों की जानकारी भी वेबसाइट पर डाली जाए.

यह भी कहा गया कि देशभर में दूसरी यूनिवर्सिटिज में आर्थिक रूप से पिछडे़ वर्गों यानी ईडब्ल्यूएस के कैंडिडेट्स को 10 फीसदी आरक्षण को ध्यान में रखकर रोस्टर को रिकास्ट करना होगा. इसके बाद ही यूनिवर्सिटिज रिक्रूटमेंट को लेकर एड जारी कर सकेंगी.

DU के टीचर्स का कहना है कि इस प्रोसीजर को ज्यादा स्लो नहीं करना चाहिए. इसपर जल्द कार्रवाई करके रोस्टर को रिकास्ट करके पर्मानेंट प्रोसीजर शुरु किया जाए. गौरतलब है कि DU में एडहॅाक टीचर्स की संख्या 5हजार से अधिक हो चुकी है. टीचर्स रिटायर हो रहे हैं, लेकिन नई रिक्रूटमेंट नहीं हो रही है.