काशी विश्वनाथ मंदिर में नहीं लागू हुआ ड्रेस कोड- नीलकंठ तिवारी

  • काशी विश्वनाथ मंदिर में धोती और साड़ी पहनकर ही शिवलिंग के स्पर्श के मामले पर प्रशासन ने यूटर्न ले लिया है
  • धर्मार्थ कार्य राज्य मंत्री नीलकंठ तिवारी ने कहा कि श्री काशी विश्वनाथ मंदिर मे अभी कोई ड्रेस कोड नहीं लागू है और न लागू करने की योजना है

नई दिल्ली. वाराणसी (Varanasi) के काशी विश्वनाथ मंदिर (Kashi Vishwanath Temple) में कोई ड्रेस कोड लागू नहीं किया जाएगा. धर्मार्थ कार्य राज्य मंत्री नीलकंठ तिवारी ने कहा कि श्री काशी विश्वनाथ मंदिर मे अभी कोई ड्रेस कोड नहीं लागू है और न लागू करने की योजना है. उन्होंने इस बारे में ट्वीट कर जानकारी दी है.

काशी विश्वनाथ मंदिर में धोती और साड़ी पहनकर ही शिवलिंग के स्पर्श के मामले पर प्रशासन ने यूटर्न ले लिया है. दरअसल, सोशल मीडिया समेत स्थानीय अखबारों में ड्रेस कोड को लेकर खबरें आईं थी.

धर्मार्थ कार्य राज्यमंत्री नीलकंठ तिवारी (Neelkanth Tiwari) ने ट्वीट कर स्पष्ट किया कि काशी विश्वनाथ मंदिर में शिवलिंग स्पर्श से पहले पुरुषों के लिए धोती और महिलाओं के लिए साड़ी पहनने का काशी विद्वत परिषद की ओर से केवल सुझाव आया था.

वहीं, मंडलायुक्त और मंदिर प्रशासन के अधिकारियों की ओर से बयान जारी किया गया कि अभी कोई निर्णय नहीं हुआ है.
वहीं वाराणसी के मंडलायुक्त दीपक अग्रवाल ने भी मंदिर में ड्रेस कोड लागू करने का खंडन किया है.

उन्होंने कहा कि काशी विश्वनाथ मंदिर में आगंतुकों के लिए एक ड्रेस कोड के बारे में कई मीडिया आउटलेट रिपोर्ट ले रहे हैं. मैं इसे पूरी जिम्मेदारी के साथ बताता हूं कि ऐसा कोई औपचारिक प्रस्ताव अब तक विचाराधीन नहीं है.

स्थानीय अखबारों और सोशल मीडिया पर चर्चा थी कि 15 जनवरी से स्पर्श दर्शन (पास से) करने के लिए मंदिर परिषद की ओर से ड्रेस कोड लागू किया जा रहा है. इसके मुताबिक पुरुषों को धोती-कुर्ता और महिलाओं को साड़ी पहनना होगा. तभी शिवलिंग के पास से दर्शन करने जा सकेंगे.

Aaj Ki Taja Khabar | Kashi Vishwanath News | Uttar Pradesh News in Hindi

Leave a Reply

%d bloggers like this: