दहेज लोभियों ने विवाहिता को दी फांसी

दहेज की मांग पूरी न होने के चलते दहेजलोभी ससुराल के लोगों ने पहले तो जुड़वा बच्चों की मां को पूरी तरह पीट-पीटकर मार दिया और बाद में उसे फांसी पर भी लटका दिया. घटना के बाद ससुराल वाले बाहर से ताला लगाकर परिवार सहित फरार हो गए.

पड़ोसियों ने घर के बाहर ताला लगा देखा तो उन्हें शक और इस बात की जानकारी विवाहिता के परिजनों को दी. परिजन जब लड़की के ससुराल पहुंचे और घर का ताला तोड़कर देखा तो उनके पांव तले जमीन खिसक गई.

उनकी बेटी फांसी पर मृत अवस्था में लटकी हुई थी, जिसकी सूचना उन्होंने तुरंत पुलिस को दी. पुलिस ने शव का सिविल अस्पताल में पोस्टमार्टम करवाकर शव परिजनों को सौंप दिया और शिकायत के आधार पर 3 महिलाओं सहित आधा दर्जन लोगों के खिलाफ दहेज हत्या के तहत मामला दर्ज कर फरार ससुराल वालों की तलाश शुरू कर दी है.

प्राप्त जानकारी के अनुसार हसनपुर, होडल निवासी अशोक कुमार पुत्र स्व. लख्मी नारायण ने शनिवार को पुलिस में शिकायत दर्ज करवाई की उसने अपनी बेटी 26 साल की वर्षा की शादी 10 दिसंबर, 2013 को सेक्टर-8 निवासी दीपक उर्फ दिनेश के साथ की थी.

शादी के दौरान उसने अपनी हैसियत अनुसार दान दहेज देकर अपनी बेटी को विदा किया था परंतु शादी के बाद से ही उसकी बेटी को दहेज के लिए परेशान किया जाने लगा. कई बार उसकी बेटी ने ससुराल वालों की ज्यादतियों के बारे में से बताया परंतु बेटी का घर न बिगड़े, इसके लिए वह चुप रहे परंतु ससुराल वालों की ज्यादतियां निरंतर बढ़ती गई.

उसके बाद उनकी बेटी वर्षा ने दो जुड़वां बेटों को भी जन्म दिया परंतु ससुराल वालों के व्यवहार में कोई फर्क नहीं आया. करीब एक सप्ताह पूर्व भी उसकी बेटी ने बताया कि उसके पति व अन्य ससुराल वाले उसे दहेज के लिए जान से मारने की धमकी दे रहे है और गत दिवस दहेज की मांग पूरी न होने पर उन्होंने उसकी बेटी को मार दिया.

पुलिस ने इस संबंध में मृतका के पति दीपक उर्फ दिनेश, ससुर हीरालाल, सास किरण, ननद शालू व ममता निवासी आजादपुर दिल्ली, हरीश चंद निवासी फरीदाबाद के खिलाफ धारा 304बी, 34 आईपीसी के तहत मामला दर्ज कर लिया है. जांच अधिकारी एएसआई गुलशन कुमार का कहना है कि नामजद आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस उनके रिश्तेदारों व सगे संबंधियों के घरों पर दबिश दे रही है, जल्द ही उनकी गिरफ्तारी हो जाएगी.

मधुकर वाजपेयी / Madhukar Vajpayee

%d bloggers like this: