बिहार चुनावः NDA में सीटों का बंटवारा हुआ, JDU को 122 और BJP को 121 सीटें मिलीं

Bihar Election
Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on whatsapp
WhatsApp

बिहार चुनाव के लिए एनडीए में सीटों का बंटवारा तय हो गया है. लंबे मंथन के बाद सीट बंटवारे को लेकर बीजेपी और जेडीयू में सहमति बन चुकी है. बिहार विधानसभा की 243 सीटों में से 122 सीटों पर जेडीयू चुनाव लड़ेगी.

वहीं 121 सीटें बीजेपी के खाते में आई हैं. इसके अलावा महागठंबधन छोड़कर आए मुकेश सहनी की पार्टी VIP भी बीजेपी के कोटे की सीटों पर चुनाव लड़ेगी. और जीतनराम मांझी की हम पार्टी को जेडीयू के कोटे से 5 सीटों पर चुनाव लड़ेगी. सीट बंटवारे का आज (मंगलवार को) अधिकारिक तौर पर ऐलान भी कर दिया गया है. बकायदा एक प्रेस कांफ्रेंस करके सीट बंटवारे का ऐलान किया गया.

इस प्रेस कांफ्रेंस में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार डिप्टी सीएम सुशील कुमार मोदी के अलावा बिहार बीजेपी अध्यक्ष संजय जायसवाल के अलावा बिहार चुनाव प्रभारी देवेंद्र फडणवीस भी मौजूद रहे.

बिहार बीजेपी अध्यक्ष संजय जायसवाल ने कहा कि बिहार में एनडीए नीतीश कुमार के नेतृत्व में चुनाव लड़ रही है. उन्होंने कहा कि केंद्र में मोदी सरकार और बिहार में नीतीश सरकार ने चौतरफा विकास करने का काम किया है. उन्होंने कहा कि नीतीश कुमार के नेतृत्व में गरीब, पिछड़ों और दलितों के विकास का काम किया है.

एलजेपी को स्पष्ट चेतावनी

चिराग पासवान जिस तरह से नीतीश कुमार के खिलाफ मोर्चा खोले हुए हैं. उससे बीजेपी नाराज हो गई है. बिहार बीजेपी अध्यक्ष ने साफ कहा कि एनडीए का हिस्सा बने रहने के लिए सभी लोगों को बिहार में नीतीश कुमार का नेतृत्व स्वीकार करना पड़ेगा. और नीतीश कुमार को फिर से मुख्यमंत्री बनाने की कोशिश करनी पड़ेगी.

वहीं चिराग भले ही नीतीश कुमार का नेतृत्व स्वीकार नहीं कर रहे हों, लेकिन बीजेपी का समर्थन कर रहे हैं. चिराग ने साफ कहा है कि वे और उनकी पार्टी पीएम मोदी के नेतृत्व में काम करते रहेंगे. यदि बिहार में भी बीजेपी का मुख्यमंत्री बने तो वे समर्थन करेंगे.

लालू के 15 साल पर नीतीश का हमला

प्रेस कांफ्रेंस में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि इस चुनाव में हम लोग 15 साल के काम को लेकर जनता के बीच जा रहे हैं. उन्होंने कहा कि हमारे लिए समाज के हर तबके के विकास का काम करना प्राथमिकता रही है. और हमने इसे किया है. नीतीश कुमार ने लालू यादव के 15 साल के कार्यकाल पर हमला करते हुए कहा कि उस वक्त कानून व्यवस्था की धज्जियां उड़ी हुईं थीं.

नीतीश कुमार ने कहा कि लालू के कार्यकाल में शिक्षा का क्या हाल था, कानून व्यवस्था का क्या हाल है, क्या किसी को पता नहीं है. उन्होंने कहा कि कोरोना काल में पूरी दुनिया परेशान थी. उस समय में हमारी सरकार ने समुचित व्यवस्था की. जिससे लोगों को ज्यादा तकलीफ ना हो. नीतीश ने कहा कि हमलोग मिलकर काम कर रहे हैं, मिलकर चुनाव लड़ेंगे. कुछ लोग क्या बोल रहे हैं, उस पर हम ध्यान नहीं देते.