म्यांमार के राष्ट्रपति और मोदी के बीच द्विपक्षीय संबंधों पर चर्चा, दोनों देशों के बीच कई करार

नई दिल्ली, 27 फरवरी (हि.स.). प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और भारत यात्रा पर आए म्यांमार के राष्ट्रपति यू विन मिंट ने गुरुवार को द्विपक्षीय संबंधों के विभिन्न पहलूओं पर विचार विमर्श किया.

हैदराबाद हाउस में मोदी और मिंट की बातचीत के बाद दोनों देशों के बीच विभिन्न क्षेत्रों में सहयोग के दस समझौतों और करारों पर हस्ताक्षर हुए. इन समझौतों में म्यांमार को त्वरित गति से लागू होने वाली परियोजनाओं के लिए भारत की आर्थिक मदद संबंधी समझौता भी शामिल है.

बिजली और पेट्रोलियम पदार्थों के क्षेत्र में भी एक समझौता हुआ. इसके तहत भारत पड़ोसी देश में संचार और परिवहन सुविधाओं के विस्तार में भी म्यांमार को मदद करेगा. मानव तस्करी को रोकने और बचाव के लिए भी एक करार हुआ, जिसमें मानव तस्करी का शिकार बनने वाले लोगों स्वदेश वापसी का प्रावधान है.

म्यांमार में गृह युद्ध का शिकार रखाइन प्रांत में सड़क और स्कूलों के निर्माण, अस्पतालों में स्वास्थ्य सुविधाओं का विस्तार और क्षेत्र के पांच कस्बों में बिजली आपूर्ति के करार भी हुए. बाघ सहित विभिन्न वन्यजीवों के संरक्षण के साथ ही स्वास्थ्य क्षेत्र में शोध के लिए भी करार किए गए.

म्यांमार के राष्ट्रपति गत बुधवार को अपनी पत्नी डाउ चो चो के साथ चार दिवसीय राजकीय यात्रा पर यहां पहुंचे थे. आज सुबह उनका राष्ट्रपति भवन में रस्मी स्वागत किया गया. बाद में उन्होंने राजघाट जाकर महात्मा गांधी की समाधि पर पुष्पांजलि अर्पित की.

हिन्दुस्थान समाचार/अजीत/सुफल

Leave a Reply

%d bloggers like this: