दिनेश कार्तिक ने बिना शर्त BCCI से मांगी माफी, सीपीएल के ड्रेसिंग रूम में जाने पर मिला था कारण बताओ नोटिस

खेल डेस्क. भारतीय क्रिकेट टीम से वर्ल्ड कप के बाद से बेवजह बाहर किए गए अनुभवी विकेटकीपर बल्लेबाज दिनेश कार्तिक ने बीसीसीआई से बिना शर्त माफी मांग ली हैं. कैरेबियन प्रीमियर लीग के पहले मैच के दौरान कार्तिक त्रिनिदाद के क्वीन पार्क ओवल में ट्रिनबैगो नाइट राइडर्स ड्रेसिंग रूम में मौजूद थे.

आईपीएल में कोलकाता नाइट राइडर्स के कप्तान कार्तिक ने प्रोटोकॉल तोड़ने के मामले में से कारण बताओ नोटिस के जवाब में यह सफाई पेश की. सीपीएल में ट्रिनबैगो नाइटराइडर्स शाहरूख खान के स्वामित्व वाली फ्रेंचाइजी है. कैरेबियाई प्रीमियर लीग का मैच देखकर के केंद्रीय उपबंध का उल्लंघन करने पर ‘बिना शर्त माफी ’ मांग ली है.

कार्तिक का कहना है कि उन्होंने ट्रिनबैगो नाइट राइडर्स की किसी गतिविधि में हिस्सा नहीं लिया. कार्तिक ने अपने जवाब में कहा, टीकेआर के पहले मैच में मैं ड्रेसिंग रूम में खेल देखने के लिए आमंत्रित था. यह मैंने किया और टीकेआर की जर्सी भी पहनी .

मैं बीसीसीआई से इस मामले में बिना शर्त माफी मांगता हूं कि मैंने इसकी पहले से कोई परमिशन नहीं ली थी. मेरा त्रिनिदाद में कोलकाता नाइट राइडर्स के कोच ब्रैंडन मैकुलम के न्योते पर आना हुआ था, जो कि टीकेआर के कोच भी हैं. उन्हें लगा कि केकेआर के कप्तान के तौर पर मेरे वहां जाना उपयोगी हो सकता था.

जहां मुझे उनसे केकेआर के संबंध में कुछ चर्चा करनी थी. बीसीसीआई ने इस मामले में कार्तिक को कारण बताओ नोटिस जारी कर उनसे 7 दिन के भीतर जवाब मांगा था. इससे पहले बोर्ड अधिकारी ने कहा था कि कार्तिक को यह कदम उठाने से पहले अनुमति लेने की आवश्यकता थी.

इसकी एक वजह ये है कि वह अभी भी बीसीसीआई के केंद्रीय अनुबंधित खिलाड़ी हैं. ऐसे में कार्तिक को कुछ प्रोटोकॉल का पालन करना जरूरी है. कार्तिक को केंद्रीय अनुबंधित किया गया है और उन्हें बीसीसीआई को सूचित किए बगैर सीपीएल के ड्रेसिंग रूम में नहीं जाना था.

Leave a Reply

%d bloggers like this: