कर्नाटक संकट: किसके पास है बहुमत सोमवार को हो जाएगा साफ- दिनेश गुंडुराव

बेंगलुरु, 20 जुलाई. कर्नाटक प्रदेश कांग्रेस समिति (केपीसीसी) के अध्यक्ष दिनेश गुंडुराव ने शनिवार को कहा कि गठबंधन सरकार के बहुमत से सम्बंधित सभी सवालों का जवाब सोमवार को दिया जाएगा.

शनिवार को यहां पत्रकारों से बात करते हुए उन्होंने कहा कि सोमवार को मतदान के लिए विश्वास प्रस्ताव रखा जाएगा और उसी दिन पता चल जाएगा कि किसे बहुमत प्राप्त है.

उन्होंने साफ किया कि हमने विश्वास प्रस्ताव की कार्यवाही में जानबूझकर देरी नहीं की. कुछ महत्वपूर्ण संवैधानिक मुद्दे हैं, जिन पर स्पष्टता की जरूरत है, इसलिए हम विचार-विमर्श चाहते थे.

उन्होंने विश्वास जताया कि गठबंधन सरकार बहुमत साबित करेगी. शुक्रवार को स्पीकर रमेश कुमार के समक्ष कांग्रेस विधायक दल के नेता सिद्धारमैया और गठबंधन सरकार के नेताओं ने सोमवार को बहुमत साबित करने की बात कही थी, जिसका भाजपा के सदस्यों ने विरोध किया था.

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष बीएस येदियुरप्पा ने कहा था कि भले ही रात्रि के 11.00 या 11.30 बज जाएं लेकिन बहुमत की कार्रवाई आज ही हो.

उल्लेखनीय है कि केपीसीसी अध्यक्ष दिनेश गुंडु राव ने सुप्रीम कोर्ट में एक याचिका दायर कर शीर्ष अदालत द्वारा 17 जुलाई को दिए गए फैसले को चुनौती दी है.

गुंडूराव ने अपनी याचिका में कहा की 15 बागी विधायकों के बारे में सुप्रीम कोर्ट का आदेश पार्टी के अधिकारों का उल्‍लंघन है.

गौरतलब है कि चीफ जस्टिस रंजन गोगोई ने 17 जुलाई को फैसले में कहा था कि इन बागी विधायकों को सदन की कार्यवाही का हिस्सा बनने के लिए बाध्य नहीं किया जाए.

आपको बता दे कि कर्नाटक में करीब एक महीने से राजनीतिक उठापटक मची हुई है. जिसका अभी तक कोई हल नहीं निकल पाया है. इधर बीजेपी के नेता राज्य में सरकार गठन की तैयारी में हैं.

उनका कहना है कि राज्य की कुमारस्वामी सरकार अल्पमत में आ गई है. उन्हें अपने पद से इस्तीफा दे देना चाहिए. हिन्दुस्थान समाचार/नूरुद्दीन रहमान

Leave a Reply

%d bloggers like this: