उपचुनाव से पहले दिग्विजय की भावनात्मक अपील, कहा- इसके बाद के हर चुनाव में चाहे तो कांग्रेस को हरा देना

मध्य प्रदेश में कांग्रेस की सरकार गिरने के बाद कई नेताओं के निशाने पर आए वरिष्ठ कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह अपनी एक पोस्ट को लेकर सुर्खियों में है. गुरुवार सुबह उन्होंने अपने सोशल मीडिया फेसबुक पेज पर 22 बागी विधायकों को लेकर उपचुनाव से पहले जनता से एक भावनात्मक अपील की है. दिग्विजय सिंह की सोशल मीडिया पर इस पोस्ट ने कांग्रेस का माहौल एक बार फिर गर्म कर दिया.

मध्य प्रदेश में कुल 24 विधानसभा सीटों पर उपुचनाव होने है. इनमें से 22 सीटें वो है जिन पर सिंधिया समर्थक विधायक थे और उन्होंने बगावत कर कांग्रेस की सरकार गिराई थी. बाद में ज्योतिरादित्य सिंधिया के साथ भाजपा का दामन थाम लिया था. जल्द ही इन सीटों पर चुनाव होने है.

ऐसे में विधानसभा की खाली सीटों पर उपचुनाव के ठीक वक्त पहले दिग्विजय सिंह ने 22 बागी विधायकों को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि बिकाऊ विधायकों की क्षेत्र की जनता से अपील है कि बिके हुए विधायकों को बुरी तरह से हराएं, जिससे मध्यप्रदेश में मिसाल कायम हो, कोई भी पार्टी विधायक खरीदने को कोशिश ना कर सके. जनता से कांग्रेस के पक्ष में वोट करने की अपील की है.

दरअसल, जो विधायक भाजपा में गए हैं, उनका विरोध करते हुए दिग्गी ने लिखा है कि कांग्रेस के उम्मीदवार को जीताए और बिके हुए विधायकों के लिए एक मिसाल कायम करें. दिग्विजय सिंह ने ये भी कहा कि अगर आपको कांग्रेस को खत्म करना है तो इसके बाद चुनाव में आपके पास मौका होगा करा देना, लेकिन लोकतंत्र को बचाने के लिए वोट कीमत बरकरार रखने के लिए ये आखिरी मौका है. दिग्विजय सिंह ने कहा कि अगर ये विधायक जीत गए, तो गलत परंपरा चल पड़ेगी, विधायकों की मंडी लगेगी बड़े नेता दलाल बन बैठेंगे.

दिग्विजय सिंह ने फेसबुक पर यह लिखा : 

इन बिकाऊ विधायकों के क्षेत्र की जनता से अपील है, चाहे आप कांग्रेस समर्थक हो या भाजपा के इन 22 विधायकों का हराना देश के लोकतंत्र के लिये जरूरी है. क्योंकि अगर ये जीत गए तो ये परंपरा हर पार्टी में चल पड़ेगी जनता चुनाव में वोट दे ना दे विधायक खरीदो और सरकार बनाओ. और राजनीतिक पार्टियां जनता के दरवाजे पर जाने के बदले विधायक खरीदना ज्यादा आसान काम मानेगी और करेगी जनता के वोट की अहमियत खत्म हो जाएगी विधायकों की मंडी लगेगी बड़े नेता दलाल बन बैठेंगे और अगर ये 22 बुरी तरह हार गए तो मध्यप्रदेश और आपका क्षेत्र एक मिसाल बन जायेगा. 

उन्‍होंने लिखा है कि देश में कोई भी पार्टी विधायक खरीदने को तैयार नही होगी और कोई विधायक भी बिकने को तैयार नही होगा. इसके बाद के हर चुनाव में आपके पास मौका होगा हरा देना कांग्रेस को, लेकिन लोकतंत्र बचाने का जनता के वोट की कीमत को बरकरार रखने का ये आखिर मौका है.

उसके बाद भाजपा वाले भाजपा को कांग्रेस वाले कांग्रेस को वोट देना, लेकिन ये 22 जब जब जिस जिस पार्टी से चुनाव लड़े इनको किसी भी पार्टी के टिकट पर जिंदगी भर मत जीतने नहीं देना. यही लोकतंत्र के लिये आपका योगदान होगा, कृपया इस मैसेज को उन 22 जहाँ- जहाँ से जिस भी पार्टी से चुनाव लड़े उस क्षेत्र में पहुँचा कर लोकतंत्र बचाने के काम में भारत देश की मदद करे. इसी प्रकार देश का लोकतंत्र बचेगा भारत देश बचेगा. जय हिंद जय भारत…. राष्ट्रहित में जारी.

हिन्दुस्थान समाचार/ नेहा पाण्डेय

Leave a Reply

%d bloggers like this: