Mamata Banerjee (
Mamata Banerjee (FILE PHOTO)

प्रयागराज. बीजेपी काशी क्षेत्र विधि प्रकोष्ठ संयोजक देवेन्द्र नाथ मिश्र ने कहा कि पश्चिम बंगाल में तानाशाह ममता बनर्जी हिंसा के दम पर सत्ता हासिल करना चाह रही हैं. जो असम्भव है. अमित शाह के रोड शो में उमड़ी भीड़ ने ममता की विदाई तय कर दी है. इसी हताशा में उनके द्वारा हिंसात्मक कार्यवाही कर प.बंगाल में लोकतंत्र का गला घोंटने का काम किया गया है.

उन्होंने बुधवार को कहा कि पिछले छह चरण के चुनाव में इन्होंने हिंसा के सिवाय कुछ नहीं किया. बीजेपी के रोड शो में साजिश के तहत ममता के कार्यकर्ताओं ने पथराव कर हिंसा ही नहीं फैलायी बल्कि ईश्वर चंद विद्यासागर की मूर्ति तोड़ने का पाप भी किया है।.जबकि बीजेपी कार्यकर्ता सड़कों पर थे और कम्पाउण्ड में तृणमूल कार्यकर्ता थे. कालेज के सभी दरवाजे बंद थे और बाहर पुलिस का पहरा फिर मूर्ति किसने तोड़ी.

लोकतंत्र अभी जिंदा हैं

उन्होंने कहा कि देश के प्रधानमंत्री को गुंडा कहना ममता का कुण्ठाग्रस्त होना दर्शाता है और इसी निराशा में वो अशोभनीय आरोपों पर उतर आई हैं. लेकिन बीजेपी उनकी धमकी से नहीं डरने वाली और लोकतंत्र जिंदा भी है. इसका जवाब ममता को देना पड़ेगा. ममता सिर्फ 42 सीटों पर प.बंगाल में चुनाव लड़ रही हैं जबकि बीजेपी सभी प्रदेशों में चुनाव लड़ रही है और सभी जगह बीजेपी की सरकारें नहीं है.

बीजेपी के होर्डिंग बैनर फाड़े गए

जहां भी क्षेत्रीय पार्टियों की सरकार है. वहां कहीं भी हिंसा नहीं हुई. हमारे रोड शो के पहले बीजेपी के होर्डिंग बैनर फाड़े गए. पथराव के बाद बीजेपी के लोगों की गाड़ियों में आगजनी की गई और कार्यकर्ताओं को मारा पीटा गया. केंद्रीय सुरक्षा बल न होती तो तृणमूल के गुंडे पार्टी अध्यक्ष अमित शाह को भी नहीं छोड़ते इस घटना की निष्पक्ष एसआईटी जांच हो.

मिश्र ने कहा कि चुनाव आयोग निष्पक्ष काम नहीं कर रहा है. समाज विरोधी कार्यों में लिप्त सैकड़ों गैंगेस्टर जेल में होने की जगह सड़कों पर घूमकर आतंक फैला रहे हैं और बीजेपी पर आरोप लगाने से तृणमूल के पाप नहीं धुल सकते.

पंचायत चुनाव हो या विधानसभा चुनाव हिंसा के दम पर सत्ता प्राप्त करने की भूख ने लोकसभा चुनाव में भी वही कृत्य किया मगर पाप का घड़ा भर गया है. अब 23 मई को उनके इस तरह के अनैतिक कृत्यों का अंत होना जनता ने तय कर दिया है. अभी तक के हुए चुनाव में जनता ने बीजेपी सरकार के पक्ष में जबर्दस्त मतदान कर बीजेपी सरकार बनाने का काम कर दिया है अब सिर्फ मतगणना और जीत की घोषणा की औपचारिकता मात्र रह गई है.

हिन्दुस्थान समाचार/विद्या कान्त