सोनिया-राहुल के दबाव में किया था गठबंधन: देवेगौड़ा

बेंगलुरु, 20 जून. जेडीएस सुप्रीमो एचडी देवेगौड़ा ने गुरुवार को कहा कि प्रदेश में गठबंधन सरकार कांग्रेस के दबाव में बनाई गई थी और वह व्यक्तिगत रूप से इसके पक्ष में नहीं थे.

उनकी यह टिप्पणी समन्वय समिति के अध्यक्ष सिद्धारमैया के जेडीएस के साथ संबंध तोड़ने की सिफारिश के संदर्भ में आई है.

सिद्धारमैया ने बुधवार को कथित तौर पर आलाकमान को बताया था कि कर्नाटक में जेडीएस के साथ गठबंधन से कांग्रेस को नुकसान हो रहा है.

देवेगौड़ा ने कहा कि उन्होंने गठबंधन सरकार बनाने की पहल नहीं की थी. यह कदम राहुल गांधी और सोनिया गांधी के दबाव के कारण उठाया गया था.

उन्होंने कहा कि मैं मीडिया रिपोर्टों पर ज्यादा टिप्पणी नहीं करना चाहता लेकिन जेडीएस या उसके नेताओं ने गठबंधन सरकार की छवि को नुकसान नहीं पहुंचाया.

आपको बता दे कि वर्ष 2018 में कर्नाटक में हुए विधानसभा चुनाव में बीजेपी सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरी थी. जबकि कांग्रेस दूसरे व जेडीएस तीसरे स्थान पर रही.

बीजेपी को राज्य की 224 सदस्ययी विधानसभा में 104 सीटें मिली थीं, जबकि कांग्रेस को 78 व जेडीएस को 37 सीटें मिली थीं.

चुनाव परिणाम के तुरंत बाद अगले ही दिन बीजेपी नेता बीएस येदियुरप्पा ने राज्यपाल वाजुभाईवाला के सामने सरकार बनाने का दावा पेश कर दिया था. इसके बाद राज्यपाल ने येदियुरप्पा को मुख्यमंत्री पद की शपथ ग्रहण कराई थी.

हालांकि बहुमत साबित न कर पाने के कारण येदियुरप्पा ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया था. इसके बाद राज्य में जेडीएस ने कांग्रेस के समर्थन से सरकार बनाई थी.

सरकार गठन के कुछ दिनों के बाद ही कांग्रेस व जेडीएस के नेताओं में तल्खियां बढ़ने लगीं थीं. एक बार तो अपने विधायकों के बीजेपी में जाने के डर से कांग्रेस व जेडीएस ने उन्हें हरियाणा के गुरुग्राम के एक रिजॉर्ट में ठहराया गया था.

1 thought on “सोनिया-राहुल के दबाव में किया था गठबंधन: देवेगौड़ा”

Leave a Reply