दिल्लीः अनधिकृत कॉलोनियों के लोगों ने जताया पीएम मोदी का आभार

केंद्र सरकार ने हाल ही में दिल्ली की अनधिकृत कॉलोनियों में 40 लाख लोगों को मालिकाना हक देने का फैसला किया था. इसको लेकर दिल्ली के बीजेपी सांसदों ने  वेलफेयर एसोसिएशन (RWA) के पदाधिकारियों और अनधिकृत कॉलोनियों के लोगों के साथ पीएम मोदी से मुलाकात की.

इस दौरान सभी ने पीएम मोदी का आभार व्यक्त किया. शहरी विकास मंत्री हरदीप पुरी ने कैबिनेट की बैठक में दिल्ली की अवैध कॉलोनियों के संबंध में लिए गए फैसले की जानकारी देते हुए कहा था कि सरकार के इस फैसले से 1797 अनधिकृत कॉलोनियों में रहने वालों को लाभ होगा.

मेरा जन्म भी गैर कानूनी कॉलोनी में हुआ- पीएम मोदी

इस दौरान पीएम मोदी ने अपने बचपन को याद करते हुए कहा कि मेरा बचपन भी गैर कानूनी कॉलोनी में हुआ था. जीवन के सपने देखने को समय आया तब भी तलवार लटकती रहती थी. कि आगे क्या होगा? जाएंगे तो कहां जाएंगे? दशकों से इस समस्या से मुक्ति नहीं मिली.

पीएम मोदी ने कहा कि इस मामले में दशकों तक राजनीति होती रही. लोग चुनाव के वक्त वादा करते रहे, लेकिन वोट लेने के बाद भूल जाते थे. पीएम ने कहा कि 2014 में जब हमारी सरकार बनी तो हमने तय किया कि ये जिम्मेदारी हम उठाएंगे.

पीएम ने कहा कि भारत सरकार ने पूरी जिम्मेदारी की साथ इस काम को किया. हमने पूरे क्षेत्र की लिए नीति बनाई. उस नीति बनाने से पहले आपके सभी सांसदों के साथ विस्तार से चर्चा की. आपके सांसदों को सर्वे करने के लिए आपके MLA, भूतपूर्व MLAs को जोड़ा.

पीएम ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी के सभी जिम्मेवार इस नीति बनाने में बहुत सक्रिय रहे, लेकिन एक मंत्र मैं सबको बताता था, कि नीति वो बनेगी, जिसकी आत्मा होगी- ‘सबका साथ-सबका विकास-सबका विश्वास’.

पीएम ने कहा कि मेरे इस मंत्र को सभी ने रत्ती भर भी खरोंच नहीं आने दी. इस नीति के अंतर्गत जहां पिछले 70 साल से एक भी वोट नहीं मिला, उन्हें भी हक दिया गया. इस नीति में हिंदू-मुस्लिम नहीं किया गया.

केंद्रीय मंत्री हरदीप पुरी ने कहा कि इस फैसले से यहां रहने वाले लोगों के जीवन में ही सुधार नहीं होगा. बल्कि राष्ट्रीय राजधानी की छवि भी सुधरेगी. उन्होंने कांग्रेस की सरकार पर तंज कसते हुए कहा कि कांग्रेस के 10 साल में जितना काम हुआ. उससे 6 गुना ज्यादा मोदी सरकार के 4 साल में हुआ है.

Leave a Comment