IPL 2019 Eliminator: दिल्ली और हैदराबाद के बीच मुकाबला आज, हारने वाली टीम का सफ़र यहीं हो जाएगा खत्म

विशाखापट्टनम. आईपीएल के 12वें सीजन में आज एलिमिनेटर मुकाबले में दिल्ली कैपिटल्स और सनराइजर्स हैदराबाद आमने-सामने होंगे. यह मैच विशाखापट्टनम के डॉ. वाईएस राजशेखर रेड्डी एसीए-वीडीसीए क्रिकेट स्टेडियम में खेला जाएगा.

इस मैच को हारने वाली टीम टू्र्नामेंट से बाहर हो जाएगी. वहीं जीतने वाली टीम को फाइनल खेलने के लिए क्वालिफायर-2 में क्वालिफायर-1 हारने वाली टीम यानि चेन्नई से 10 मई को मुकाबला करना होगा.

हैदराबाद ने पिछले साल भी टूर्नामेंट का फाइनल खेला था. लेकिन तब उन्हें चेन्नई के हाथों हार का सामना करना पड़ा था. दूसरी ओर दिल्ली की टीम कभी भी फाइनल तक नहीं पहुंची. दिल्ली इस बार 7 साल बाद प्लेऑफ में पहुंची है.

ऐसे में जहां हैदराबाद दिल्ली के खिलाफ मैच जीतकर फाइनल में जगह बनाकर इस बार खिताब की उम्मीद कर रही होगी. वहीं दिल्ली कैपिटल्स भी इस बार मिले मौके को कतई नहीं गंवाना चाहेगी.

इसलिए दोनों टीम हर हाल में आज का मुकाबला जीतकर क्वालीफायर-2 में अपनी जगह पुख्ता करने की कोशिश करेगी. दिल्ली की टीम इस वक्त शानदार फॉर्म में है. शिखर धवन, कप्तान श्रेयस अय्यर और ऋषभ पंत बढ़िया बल्लेबाजी कर रहे है.

हालांकि टीम के बाकी बल्लेबाजों के प्रदर्शन में निरंतरता की कमी रही है. पृथ्वी ने 14 मैच में 292 रन बनाए. इसमें 5 बार वे दहाई का आंकड़ा नहीं छू पाए. वहीं टीम के विस्फोटक बल्लेबाज पंत के 14 मैच में 401 रन हैं, लेकिन वे भी 5 बार 2 अंकों में स्कोर नहीं बना पाए.

एलिमिनेटर मुकाबले में दिल्ली के लिए सबसे बड़ी परेशानी यह होगी कि कप्तान अय्यर मौजूदा सीजन के सबसे सफल गेंदबाज कगिसो रबाडा के बगैर मैदान पर उतरेंगे. दिल्ली की इसी कमजोरी का फायदा हैदराबाद के बल्लेबाज भी उठाना चाहेंगे.

डेविड वार्नर और बेयरेस्टो की गैरमौजूदगी में हैदराबाद की बल्लेबाज पूरी तरह नाकाम रहे है. इसी का नतीजा है कि इस सीजन की मजबूत टीम समझी जा रही हैदराबाद को अंतिम चार में पहुंचने के लिए दूसरी टीम के रिजल्ट पर निर्भर रहना पड़ा है.

हैदराबाद की टीम किस्मत से मिले इस मौके को बिल्कुल जाया नहीं करना चाहेंगी. क्योंकि पिछले साल खिताब न जीतने की कसक अभी भी हैदराबाद के खिलाड़ियों में जरूर बाकी होगी. दिल्ली के खिलाफ कप्तान विलियम्सन को अपने गेंदबाजों से बेहतर प्रदर्शन की उम्मीद होगी.

हैदराबाद के गेंदबाज दिल्ली के बल्लेबाजों पर रोक लगाने में नाकाम रहे तो उनके आईपीएल खिताब जीतने का सपना एक बार फिर अधूरा रह जाएगा. जबकि दिल्ली कैपिटल्स को पहली दफा फाइनल में पहुंचने के लिए पहले एलिमिनेटर मुकाबले में हैदराबाद को पस्त करना होगा.

%d bloggers like this: