राजस्थान के कोटा में मौतें होने का सिलसिला जारी, 104 पहुंचा आंकड़ा

  • वहीं इस पूरे मामले पर राजस्थान सरकार घिर गई है. सीएम अशोक गहलोत ने ये कहकर पल्ला झाड़ने की कोशिश की है
  • राजस्थान के कोटा में बच्चों की मौत का सिलसिला थम नहीं रहा है. कोटा में हो रही मौतों का आंकड़ा अब 104 तक पहुंच चुका है. आज केंद्र की एक कमेटी भी कोटा में जांच के लिए जाएगी.

राजस्थान के कोटा में बच्चों की मौत का सिलसिला थम नहीं रहा है. कोटा में हो रही मौतों का आंकड़ा अब 104 तक पहुंच चुका है. आज केंद्र की एक कमेटी भी कोटा में जांच के लिए जाएगी.

वहीं इस पूरे मामले पर राजस्थान सरकार घिर गई है. सीएम अशोक गहलोत ने ये कहकर पल्ला झाड़ने की कोशिश की है कि सीएए और एनआरसी जैसे बड़े मुद्दों पर देश भर में बने माहौल से ध्यान हटाने के लिए सरकार इस मुद्दे को तूल दे रही है.

सूत्रों की मानें तो कोटा के जेके लोन अस्पताल में बच्चों की मौत को लेकर दुख जाहिर करते हुए सोनिया गांधी ने भी पांडे के जरिए ही राज्य सरकार को संदेश भिजवाया था कि इस मामले में बड़ी कार्रवाई राज्य सरकार जल्द से जल्द करे.

टीम करेगी जांच

अब केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने मामले में एक उच्चस्तरीय टीम का गठन किया है. इसमें एम्स जोधपुर के विशेषज्ञ डॉक्टर, हेल्थ फाइनेंस एंड रीजनल डॉयरेक्टर और जयपुर हेल्थ सर्विस के लोग शामिल होंगे. आज ये टीम कोटा के जेके लोन सरकारी अस्पताल पहुंचेगी.

मौत का आंकड़ा नया नहीं

कोटा में मौत होने का आंकड़ा नया नहीं है. मीडिया में चल रही खबरों की मानें तो 2014 में 15719 बच्चे अस्पताल में भर्ती हुए जिनमें से 1198 बच्चों की मौत हो गई. इसके बाद 2015 में 17579 बच्चे अस्पताल में एडमिट हुए जिसमें से 1260 बच्चों की जान चली गई.

Trending News: Breaking News | Hindi News | Aaj Ki Taza Khabar

Leave a Reply

%d bloggers like this: