ये मत सोचिए कि आपके फोन में FACEBOOK नहीं है तो चोरी नहीं होगा आपका DATA

यदि आप सोच रहे हैं कि आपने अपने फोन में Facebook इंस्टाल नहीं किया है और आप डाटा चोरी होने से बचा रहे हैं तो आपकी यह सोच गलत है. दरअसल फेसबुक इंस्टाल किए बिना भी फेसबुक आपके मोबाइल से डाटा चोरी करके कंपनियों को बेच रहा है.

ऐसा ब्रिटेन की संस्था Charity Privacy International की एक रिपोर्ट में दावा किया गया है.
Privacy International की इस रिपोर्ट को जर्मनी के शहर लाइपजिग में हुई ‘कैओस कम्प्यूटर कांग्रेस’ में पेश किया गया था.

रिपोर्ट के मुताबिक फेसबुक उन मोबाइस यूजर्स की सूचनाएं भी चुरा रहे हैं जिन्होंने अपने मोबाइल पर फेसबुक इंस्टाल नहीं किया है. यह डाटा विज्ञापन बनाने वाली कंपनियों को बेचा जा रहा है. ये कंपनियां आपकी पसंद नापसंद को देखते हुए विज्ञापन दिखाती है.

इस रिपोर्ट के मुताबिक Facebook कंपनी दूसरे ऐप की मदद से आपके डेटा तक पहुंच सकती है. Duolingo ड्यूलिंगो, TripAdvisor , indeed और Skyscanner जैसे नामी Anroid ऐप यूजर का डेटा facebook के साथ शेयर कर रहे हैं.

34 में से 23 ऐसे एंड्रॉइड ऐप हैं जो facebook के साथ डेटा शेयर करते हैं. ऐप डेवलपर ऐप डेवलपिंग टूल ‘Facebook सॉफ्टवेयर डेवलपमेंट किट’ के जरिए यूजर का डेटा Facebook तक पहुंचा रहे हैं. यूजर जितनी बार एप का इस्तेमाल करता है उतनी बार उसका डेटा Facebook तक पहुंचता है.

ये ऐप आपके मोबाइल फोन में सेव किए गए नंबर, फोटो-वीडियो, ई-मेल्स और सर्च साइट्स की पूरी जानकारी फेस बुक तक पहुंचाते हैं. इससे facebook ये तय करता है कि यूजर को किस वक्त कौन सा विज्ञापन दिखाया जाए.

हालांकि फेसबुक ने इस पर अपनी सफाई देते हुए कहा कि नॉन फेसबुक यूजर्स कुकीज को कंट्रोल कर सकते हैं, और यह निश्चित कर सकते हैं कि उनके डाटा के अनुसार उन्हें विज्ञापन दिखाए जाए या नही.

%d bloggers like this: