RBI को नए नोट और सिक्के जारी करना पड़ा भारी, हाई कोर्ट ने लगाई फटकार पूछा ये सवाल
  • आरबीआई से पूठा है कि समय-समय पर नोटों और सिक्कों के आकार और अन्य फीचर्स बदलने की आखिरी क्या वजह है
  • नेशनल एसोसिएशन ऑफ द ब्लाइंड(एनएबी) की ओर से बॉम्बे हाईकोर्ट में एक याचिका दायर की गई है

नई दिल्ली.आपने बहुत बार ये बात सुनी होगी कि 10 रुपए का ,20 रुपए का, 50 रुपए का और 500 रुपए का नया नोट आ रहा है. कई बार आपने नए नोटों की आने की खबरों को सुना होगा और आपके मन में एक सवाल आता होगा आखिर ऐसा हो क्यों रहा है.

कोर्ट ने पूछा ये सवाल-

आप नहीं समझ पाते होंगे की आखिर भारतीय रिजर्व बैंक ऐसा क्यों कर रहा है. वो लगातार नए नोटों और सिक्कों को क्यों जारी कर रहा है. यही सवाल अब कोर्ट ने भी आरबीआई से किया है.कोर्ट ने आरबीआई से ऐसा करने की वजह पूछी है.

बॉम्बे हाईकोर्ट में याचिका-

हाल ही में बॉम्बे हाईकोर्ट में एक याचिका दायर की गई है. जिस पर कोर्ट ने सुनवाई करते हुए आरबीआई से पूठा है कि समय-समय पर नोटों और सिक्कों के आकार और अन्य फीचर्स बदलने की आखिरी क्या वजह है.

मुख्य न्यायाधीश प्रदीप नंदराजोग ने की कर्रवाई-

नेशनल एसोसिएशन ऑफ द ब्लाइंड (एनएबी) की ओर से बॉम्बे हाईकोर्ट में एक याचिका दायर की गई है. याचिका पर सुनवाई करते हुए मुख्य न्यायाधीश प्रदीप नंदराजोग और न्यायमूर्ति एन एम जामदार की खंडपीठ ने आरबीआई के इस कदम पर सवाल उठाये हैं.

आरबीआई ने कही ये बात-

कोर्ट ने आरबीआई से ये भी कहा है कि दुनिया का कोई भी देश अपनी मुद्रा के आकार और विशेषताओं को इतनी जल्दी नहीं बदलता है.ऐसे में इस कदम को उठाने का कारण क्या है.
कोर्ट ने आरबीआई को इस पूरे मामले में 6 हफ्चे के अंदर हलफनामा दायर करने का आदेश दिया है.साथ ही हलफनामें में आरबीआई से नए सिक्कों और नोटों में विशिष्ट विशेषताओं को शामिल करने के लिए दिशा-विर्दश मांगे गए हैं.

Trending Tags – Economy News | Business News | RBI | National News | Aaj ka Samachar

Leave a Comment

%d bloggers like this: