कोयलांचल में दिखा देशव्यापी बंद का असर-खदानों में बंद हुआ उत्पादन और ढुलाई

  • देश की दस केन्द्रीय मजदूर यूनियनों ने आठ जनवरी को हड़ताल का आह्वान किया है. जाहिर है इससे बैंकिंग सेवाएं प्रभावित होंगी
  • बैंकों में राशि जमा करने, निकासी करने, चेक क्लियरिंग और विभिन्न वित्तीय साधनों को जारी करने का काम हड़ताल में बंद हैं

रामगढ़ (झारखंड), 08 जनवरी (हि.स.). केंद्र सरकार की नीतियों के खिलाफ वामदलों के बुलाए गए देशव्यापी बंद का असर कोयलांचल में देखने को मिल रहा है. बुधवार को शहर से लेकर खदानों तक में चक्का जाम हो गया है.

रामगढ़ शहर में बैंक भी बंद रहे और ट्रेड यूनियन के लोगों ने बाजार बंद करा दिया. रामगढ़ जिले के उरीमारी, सयाल, रजरप्पा, तोपा, करमा, झारखंड, चरही, भुरकुंडा, वेस्ट बोकारो आदि कोलीयरियों में उत्पादन और ढुलाई का कार्य पूरी तरीके से ठप हो गया है.

देश की दस केन्द्रीय मजदूर यूनियनों ने आठ जनवरी को हड़ताल का आह्वान किया है. जाहिर है इससे बैंकिंग सेवाएं प्रभावित होंगी. ज्यादातर बैंकों ने इस हड़ताल और इससे उनकी सेवाओं पर पड़ने वाले असर के बारे में ग्राहकों को सूचित कर दिया है. बैंक कर्मचारियों की ज्यादातर यूनियनों ने भी हड़ताल में भाग लिया है.

जानकारी के मुताबिक बैंक कर्मचारियों की अखिल भारतीय बैंक कर्मचारी संघ, अखिल भारतीय बैंक अधिकारी संघ, भारतीय बैंक कर्मचारी महासंघों और बैंक कर्मचारी सेना महासंघ सहित विभिन्न यूनियनों ने हड़ताल का समर्थन किया है.

बैंकों में राशि जमा करने, निकासी करने, चेक क्लियरिंग और विभिन्न वित्तीय साधनों को जारी करने का काम हड़ताल में बंद हैं. हालांकि निजी क्षेत्र के बैंकों में काम हो रहे हैं.

केंद्र सरकार की जन-विरोधी नीतियों के खिलाफ की जा रही इस हड़ताल में इंडियन नेशनल ट्रेड यूनियन कांग्रेस (इंटक), आल इंडिया ट्रेड यूनियन कांग्रेस (एटक), हिन्द मजदूर सभा (एचएमएस), कन्फेडरेशन आफ इंडियन ट्रेड यूनियंस (सीटू) के अलावा टीयूसीसी, सेवा, एआईसीसीटीयू, एलपीएफ, यूटीयूसी तथा विभिन्न क्षेत्रों की स्वतंत्र यूनियनों और महासंघों ने पिछले साल सितम्बर महीने में ही आठ जनवरी 2020 को राष्ट्रव्यापी हड़ताल पर जाने की घोषणा कर दी थी.

हिन्दुस्थान समाचार/ अमितेश

Trending News: Coal Mines Latest News | Latest Mining News | Aaj Ki Taja Khabar

Leave a Reply

%d bloggers like this: