भदोही में होता है लाशों का सौदा

भदोही

यूपी के भदोही जिले में लाशों से भी सौदा करने का मामला आया है. एक वीडियो ने स्वास्थ्य महकमे की नींद उड़ा दी है.

पोस्टमार्टम हाउस आने वाले शवों के चीर फाड़ करने के लिए नियुक्त कर्मचारी पीड़ित परिजनों से एक हजार रुपये और अंग्रेजी शराब की मांग करते हैं. यह खुलासा एक मृतक के परिजनों द्वारा बनाये वीडियो से हुआ है.

भदोही में होता है लाशों का सौदा… https://hs.news/bhadohi-happens-in-corpses-deal/

भदोही में होता है लाशों का सौदा, पढ़े पूरी खबर, लिंक पर क्लिक करें… https://hs.news/bhadohi-happens-in-corpses-deal/पोस्टमार्टम हाउस आने वाले शवों के चीर फाड़ करने के लिए नियुक्त कर्मचारी पीड़ित परिजनों से एक हजार रुपये और अंग्रेजी शराब की मांग करते हैं. यह खुलासा एक मृतक के परिजनों द्वारा बनाये वीडियो से हुआ है.

Hindusthan Samachar यांनी वर पोस्ट केले मंगळवार, २५ जून, २०१९

उत्तर प्रदेश के भदोही जिले के चौरी थाना इलाके में चार दिन पूर्व सड़क दुर्घटना में एक युवक की मौत हुई थी. जिसके बाद जिले की चौरी पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया. मृतक के परिजन का आरोप है कि जब जिला अस्पताल महाराजा चेत सिंह के पीछे बने मर्चरी हाउस हम लोग पहुँचे तो चीर-फाड़ करने वाले कर्मचारी ने सुविधा शुल्क मांगे.

परिजनों का आरोप है कि कर्मचारी ने एक हजार रुपये और अंग्रेजी शराब की मांग की. मांग पूरा न करने पर शव की चीर-फाड़ प्रक्रिया को रोक रखा गया. बेबस और दुखी परिजनों ने पोस्टमार्टम हाउस पर जुटे रिश्तेदारों से चंदा इकट्ठा कर कर्मचारी को आठ सौ रुपये और अंग्रेजी शराब वहां के वर्दीधारी को सौंपा.

बाद में वर्दीधारी ने उस पैसे को चीरफाड़ करने वाले को दे दिया. जब परिजन रुपये दे रहे थे उस समय वहीं मौजूद परिवार के एक सदस्य ने सुविधा शुल्क लेने का पूरा वाकया अपने मोबाइल में कैद कर लिया.

वीडियो में साफ देखा जा सकता है कि मानवता को शर्मसार करने वाले इस हरकत में पुलिसकर्मी भी शामिल हैं. जो परिजनों से रुपए लेकर पोस्टमार्टम हाउस के कर्मचारी को दे रहा है. यह घटना मानवता को शर्मसार करने वाली है.

अगर वहां मौजूद पुलिसकर्मी चाहता तो शव लेने के गरीब परिजनों को इतना बेबस न होना पड़ता. वहीं पोस्टमार्टम हाउस में एक कर्मचारी तैनात है जो कई वर्षों से चीर-फाड़ और सिलाई का काम करता है. इस मामले पर मुख्यचिकित्सा अधिकारी डा.लक्ष्मी सिंह ने गम्भीर मसला बताया है. मामले की जांच करने का आश्वासन दिया है.

हिन्दुस्थान समाचार / पीएन शुक्ला

Leave a Reply