प. बंगालः IIT खड़गपुर के वैज्ञानिकों ने बनाया कोरोना की सस्ती जांच किट

कोलकाता, प. बंगाल।

दुनिया भर में तेजी से बढ़ते जा रहे कोरोना वायरस की रोकथाम के लिए IIT खड़गपुर के वैज्ञानिकों ने बड़ी शोध की है. संस्थान ने बताया गया कि शोधकर्ताओं ने एक ऐसा उपकरण तैयार किया है. जिससे महज 400 रुपये खर्च कर कोरोना संक्रमण  की जांच की जा सकती है.

इस उपकरण के माध्यम से महज एक घंटे में ही कोरोना की रिपोर्ट भी मिल जाएगी. आईआईटी खड़गपुर ने दावा किया है कि इससे गरीबों को लाभ मिल सकेगा, क्योंकि अभी भी कोरोना की जांच काफी महंगी है.

प्रोफेसर सुमन चक्रवर्ती का कहना है कि ‘कोविरैप’ नाम के उस उपकरण से कोरोना वायरस की तुरंत जांच हो सकेगी. उन्होने बताया कि इसका परिणाम एक घंटे में मिल जाएगा, जिसे मोबाइल ऐप पर देखा जा सकेगा. उनका कहना है कि इस डिवाइस की कीमत 2 हजार रुपये होगी. इसका उत्पाद बड़े स्तर पर होता है तो इसकी कीमत कम भी हो सकती है.

इस उपकरण के पेटेंट के लिए संस्थान ने आवेदन कर दिया है. जानकारी के मुताबिक लैब में की गई जांच के मुकाबले ‘कोविरैप’ से अधिक आसानी से कोरोना वायरस की जांच की जा सकती है और इसके परिणाम भी आरटी-पीसीआप जांच जितनी ही सटीक होंगे. एक डिवाइस से कई जांच की जा सकेगी.

वही इस डिवाइस को चलाने के लिए किसी प्रशिक्षण की जरूरत भी नहीं होगी. अभी तक कोरोना टेस्टिंग के लिए जो प्रक्रिया अपनाई जा रही है, वो काफी महंगी है. लिहाजा ये तकनीक कोरोना की जांच में दुनिया भर के लिए मददगार साबित हो सकती है.

हिन्दुस्थान समाचार/ओम प्रकाश

Leave a Reply

%d bloggers like this: