गुजरातः मुख्यमंत्री कार्यालय में कोरोना की दस्तक, एक कर्मचारी को निकला संक्रमित

Vijay Rupani
Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on whatsapp
WhatsApp

गुजरात में बेकाबू होते कोरोना के संक्रमण ने अब मुख्यमंत्री कार्यालय में भी दस्तक दे दी है. स्वर्णिम संकुल-1 में स्थित मुख्यमंत्री कार्यालय का एक कर्मचारी की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई है. राहत की बात यह है कि कोरोना पॉजिटिव युवक पिछले कई दिन से कार्यालय नहीं आया था.

बताया कि मुख्यमंत्री कार्यालय में एक एजेंसी के तहत काम करने वाला एक कर्मचारी कार्य करता था. आज इस युवक की कोरोना रिपोर्ट पाजिटिव आई है. यह युवक पिछले 4-5 दिन से कार्यालय नहीं आया था. इस मुख्यमंत्री कार्यालय के किसी अन्य कर्मचारी के संक्रमित होने की संभावना कम ही है.

बता दें कि 15 दिन पहले स्वर्णिम संकुल-2 में मंत्री जयद्रथ सिंह परमार के कार्यालय का एक कर्मचारी भरत सिंह डाभी की भी कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी. इसके बाद मंत्री के कार्यालय में सभी कर्मियों को गृह एकांतवास कर दिया गया.

स्वास्थ्य विभाग की ओर से पुख्ता इंतजाम

इससे पहले 10 जून को स्वर्णिम संकुल में आने वालों, कर्मचारियों और मंत्रियों के स्वास्थ्य की जांच के लिए एक स्वचालित थर्मल स्कैनर स्थापित किया गया है. यह स्कैनर स्वर्णिम संकुल में आने वाले का फोटो खीचता है और उसका तापमान भी मापता है. यदि किसी व्यक्ति का तापमान अधिक है, तो उसे परिसर में प्रवेश करने की अनुमति नहीं है. सचिवालय में इतने मामले आने के चलते सभी ऑफिसों में भय का माहौल बन गया है.

एक हजार से ज्यादा नए मरीज मिले

प्रदेश में पिछले 24 घंटे में कोरोना के 1 हजार 56 नए मामले सामने आए हैं, जिसके बाद संक्रमितों का आंकड़ा बढ़कर 72 हजार 120 तक पहुंच गया है. राज्य के स्वास्थ्य विभाग ने यह जानकारी दी. विभाग ने कहा कि संक्रमण से 20 और लोगों की मौत के साथ ही मृतकों की तादाद 2 हजार 674 हो गई है.

एक अधिकारिक विज्ञप्ति में कहा गया है कि 1 हजार 138 लोगों के ठीक होने के बाद संक्रमण से उबर चुके लोगों की कुल संख्या 55 हजार 276 हो गई है. विज्ञप्ति के अनुसार गुजरात में अब भी 14 हजार 170 लोग कोरोना वायरस से संक्रमित हैं. इनमें से 76 की हालत नाजुक है.

मास्क नहीं पहनने पर होगा जुर्माना

गुजरात सरकार ने मास्क नहीं पहनने पर जुर्माना 500 से बढ़ाकर 1000 रुपये कर दिया है. गुजरात के सीएम विजय रुपाणी ने हाई कोर्ट का हवाला देते हुए जुर्माने की राशि बढ़ाने की घोषणा की है. उन्होंने कहा कि सार्वजनिक स्थानों पर बिना मास्क घूमने पर अब 1,000 रुपये का जुर्माना देना होगा. प्रदेश सरकार द्वारा जारी आदेश प्रदेश में 11 अगस्त से लागू है.