राहुल गांधी की फिसली जुबान, इस आतंकी को बोला ”जी”

नई दिल्ली, 11 मार्च. चुनाव आयोग द्वारा लोकसभा चुनाव की तारीखों का ऐलान होते ही सभी राजनीतिक पार्टियां अपने-अपने कार्यकर्ताओं में जोश भरने में जुट गई हैं. इसी के तहत आज दिल्ली में अपने बूथ स्तरीय कार्यकर्ता सम्मेलन को संबोधित करते हुए कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की जुबान फिसल गई.

दरअसल राहुल गांधी कंधार विमान अपहरण कांड के बाद आतंकवादियों को छोड़ने को लेकर निशाना साधते हुए जैश-ए-मोहम्मद के मुखिया मसूद अजहर को ‘मसूद अजहर जी’ बोल गए. पार्टी के बूथ सम्मेलन में एनएसए अजीत डोभाल पर कटाक्ष करते हुए राहुल गांधी ने कहा कि ‘पुलवामा हमले में सीआरपीएफ के 40 से 45 जवान शहीद हो गए.

सीआरपीएफ बस पर बम किसने फोड़ा? जैश-ए-मोहम्मद के मुखिया मसूद अजहर ने. आपको याद होगा ना? यह वही मसूद अजहर है, जिसे 56 इंच वालों की तब की सरकार (वाजपेयी की सरकार) ने एयरक्राफ्ट में ”मसूद अजहर जी” के साथ बैठकर अजीत डोभाल कंधार में हवाले करके आ गए थे.’

आपको बता दे कि राहुल गांधी से पहले वरिष्ठ कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह भी आतंकी ओसामा बिन लादेन को ”ओसामा जी” कहकर संबोधित कर चुके हैं. चुनावी माहौल में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी द्वारा एक ऐसे खूंखार आतंकी को जी कहना भारी पड़ सकता है जिसके ऊपर सीआरपीएफ के 42 जवानों की हत्या का आरोप हो.

आपको बता दे कि 14 फरवरी को जम्मू कश्मीर के पुलवामा में पाकिस्तान समर्थित आतंकवादी संगठन जैश-ए-मोहम्मद द्वारा किए गए आत्मघाती हमले में सीआरपीएफ के 42 जवान शहीद हो गए थे. जिसके बाद देश में आतंकवादियों के खिलाफ गुस्सा फूट पड़ा था.

इसके बाद 26 फरवरी को भारतीय वायुसेना द्वारा पीओके में जैश के ठिकानों पर एयर स्ट्राइक की गई थी, जिसमें कई सारे आतंकी कैंपों को ध्वस्त करने का दावा सेना के अधिकारियों के द्वारा किया गया था.