बेंगलुरु में सांप्रदायिकता की आग, कांग्रेस विधायक के घर आगजनी और तोड़फोड़, दो की मौत, 110 गिरफ्तार

13
Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on whatsapp
WhatsApp

नई दिल्ली.  कर्नाटक (Karnataka) की राजधानी बेंगलुरु (Bengaluru) के कुछ इलाकों में मंगलवार देर रात सांप्रदायिक हिंसा भड़कने के दौरान 2 लोगों की मौत हो गई. जबकि 60 से ज्यादा पुलिसवाले घायल हो गए हैं. ये हिंसा एक आपत्तिजनक पोस्ट को लेकर भड़की थी.

जानकारी के मुताबिक, कांग्रेस विधायक श्रीनिवास मूर्ति के भतीजे की सोशल मीडिया (Social Media) पर डाली गई एक पोस्ट के बाद लोग भड़क गए. इसी के बाद हाली पुलिस स्टेशन-विधायक के घर का घेराव किया गया. लोगों का कहना था कि इस पोस्ट ने उनकी भावनाओं को आहत किया है.

नाराज लोगों की भीड़ ने विधायक मूर्ति के आवास पर जमकर नारेबाजी के साथ तोड़फोड़ की. लोगों ने जमकर हंगामा किया और आगजनी भी की. भीड़ को काबू में करने के लिए पुलिस को फायरिंग करनी पड़ी. फिलहाल विधायक के घर के बाहर अतिरिक्त बल तैनात कर इलाके में धारा 144 लागू कर दी गई है.

बेंगलुरु पुलिस कमिश्नर कमल पंत ने कहा, शहर में हिंसा से जुड़े मामलों में अब तक 110 लोगों को गिरप्तार किया गया है.पुलिस ने कांग्रेस विधायक श्रीनिवास के भतीजे को सोशल मीडिया पर अपमानजनक पोस्ट शेयर करने के आरोप में गिरफ्तार कर लिया है.

वहीं पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक नवीन ने दावा किया कि उसका फेसबुक (Facebook) अकाउंट हैक हो गया था. उसने आपत्तिजनक पोस्ट नहीं किया, जिसमें कथित तौर पर पैगंबर के अपमान की बात कही जा रही है.

वहीं देर रात मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा (Chief Minister BS Yeddyurappa) ने भी राज्य के गृह मंत्री बी. बोम्माई से बात की और हालात काबू में लाने के लिए फ्री हैंड दिया. इस पूरे मामले में कर्नाटक के गृह मंत्री ने कहा कि मामले की जांच होनी चाहिए लेकिन बवाल करना किसी भी बात का हल नहीं है. सुरक्षा के मद्देनजर इलाके में अतिरिक्त बलों को तैनात कर दिया गया है और उपद्रवियों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी.