बिहारः कांग्रेस नेता हरीश रावत का मोदी-नीतीश सरकार पर हमला

Harish Rawat
Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on whatsapp
WhatsApp

पटना, बिहार।

कांग्रेस ने बिहार विधानसभा चुनाव के लिए तैयारियां शुरू कर दी हैं. कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और उत्तराखंड के पूर्व सीएम हरीश रावत ने मोदी सरकार और नीतीश सरकार पर जमकर हमला किया.

बिहार क्रांति महासम्मेलन की वर्चुअल रैली को संबोधित करते हुए हरीश रावत ने कहा कि केंद्र की मोदी सरकार ने अर्थव्यवस्था को पहले ही चौपट कर दिया था और अब उन्हें कोरोना का बहाना मिल गया है. उन्होंने कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने वैश्विक मंदी के बीच भी भारत की अर्थव्यवस्था को कमजोर नहीं होने दिया.

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी ने चीनी घुसपैठ की कोशिशों को नकारा था, लेकिन आज मीडिया में घुसपैठ की खबरें आ रही हैं तो उनको स्पष्ट करना चाहिए कि उन्होंने देश को धोखे में क्यों रखा. रावत ने कहा कि मजदूरों की हकमारी तो पहले ही केंद्र की निरंकुश सरकार ने कर रखी थी लेकिन अब कांग्रेस द्वारा लाए गए किसानों के हितैषी न्यूनतम समर्थन मूल्य को भी अध्यादेश लाकर खत्म करना चाहती है.

बिहार कांग्रेस के अध्यक्ष डॉ. मदन मोहन झा ने कहा कि बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने अपने वर्चुअल सम्मेलन में लगातार तीन घंटे झूठ बोलने का काम किया. नीतीश कुमार जब बिहार में शराबबंदी पर अपनी उपलब्धि गिना रहे थे तब उनके भाषण स्थल से कुछ ही दूरी पर शराब माफिया बिहार पुलिस के जवानों को पीट रहे थे . दो करोड़ नौकरी देने का वादा करके नौकरी छीनने वाले ये लोग खुद अपनी पीठ थपथपाने का काम करते हैं .

कांग्रेस ने कहा कि केन्द्र की मोदी सरकार ने जहां देश की अर्थव्यवस्था को चौपट कर दिया, वहीं बिहार के सीएम खुद अपनी पीठ थपथपाने में मशगूल हैं. बिहार प्रदेश कांग्रेस की वर्चुअल रैली बिहार क्रांति महासम्मेलन में मंगलवार को प्रदेश के सारण तथा वैशाली जिले के कार्यकर्त्ताओं तथा आमजनों के साथ कांग्रेस के राष्ट्रीय नेताओं ने दिल्ली और पटना स्थित मंच से वरिष्ठ कांग्रेस नेताओं ने वर्चुअल संवाद स्थापित किए.

इस महासम्मेलन में प्रदेश अध्यक्ष डॉ. मदन मोहन झा, कार्यकारी अध्यक्ष द्वय विधान पार्षद समीर कुमार सिंह व श्याम सुंदर सिंह धीरज, संगठन महासचिव ब्रजेश पांडे, मांझी के विधायक विजय शंकर दुबे, पूर्व मंत्री रविंद्र नाथ मिश्रा,प्रवक्ता राजेश राठौड़, इंटक अध्यक्ष चंद्र प्रकाश सिंह, पूर्व केंद्रीय मंत्री उषा सिन्हा, अल्पसंख्यक विभाग के अध्यक्ष मिन्नत रहमानी समेत कई अन्य कांग्रेस नेता मंच से जुड़े रहे.

हिन्दुस्थान समाचार/राजीव रंजन