पीपीई एवं अन्य सुरक्षा उपकरणों की उपलब्धता पर ठोस कदम उठाए सरकार: कांग्रेस

Sushmita Dev
Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on whatsapp
WhatsApp

कांग्रेस ने कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई में टेस्ट किट एवं अन्य सुरक्षा उपकरणों की कमी को लेकर केंद्र सरकार पर निशाना साधा है. कांग्रेस प्रवक्ता सुष्मिता देव ने कहा कि वर्तमान स्थिति में कोरोना का इलाज कर रहे डॉक्टरों को पर्सनल पोटेक्शन उपकरण (PPE) की काफी जरूरत है लेकिन वह उन्हें उपलब्ध नहीं हो रहे.

कांग्रेस प्रवक्ता ने कहा कि केंद्र सरकार को इस दिशा में जल्द और स्थायी कदम उठाने की जरूरत है. उन्होंने कहा कि आज हमारे सामने कोरोना की विकट समस्या से निपटने के लिए पर्याप्त सुरक्षा उपकरणों की कमी है. इस कमी के चलते हमारी सारी कोशिशों पर पानी फिर सकता है क्योंकि अब संक्रमितों का इलाज कर रही चिकित्सकीय टीम के सदस्य इसकी चपेट में आ रहे हैं.

सुष्मिता देव ने केंद्र से सवाल करते हुए कहा कि आखिर पीपीई को तैयार करने में पांच सप्ताह की देरी क्यों की गई, जबकि 28 फरवरी को ही इसे लेकर अलर्ट दिया गया था. इसी प्रकार वेंटीलेटर और वेंटीलेटरों को चलाने वाले टेक्नीशियनों की कमी को दूर करने को लेकर भी उन्होंने सरकार की मंशा पर सवाल उठाया.

उन्होंने कहा कि आज लोगों के सामने सबसे बड़ी दिक्कत टेस्टिंग को लेकर है. पर्याप्त टेस्ट किट नहीं होने के कारण ज्यादातर मरीजों की हालत खराब होने पर वायरस संक्रमण का पता चल पा रहा है. उन्होंने कहा कि पर्याप्त संख्या में टेस्ट किट उपलब्ध कराने की जरूरत है ताकि जो लोग टेस्ट कराना चाहते है, उन्हें यह सुविधा मिले.

लॉकडाउन खत्म होने अथवा बढ़ने के एक सवाल के जवाब में कांग्रेस प्रवक्ता ने कहा कि इसे हटाने या जारी रखने को लेकर सरकार जो भी फैसला करेगी कांग्रेस उनका समर्थन करेगी. हालांकि उन्होंने यह भी कहा कि निर्णय जो भी हो, उसे पूरी तैयारी के बाद ही लागू किए जाए. इस दौरान उन्होंने कोरोना से होने वाली मौतों पर चिंता जताते हुए कहा कि मृतकों को मुआवजा दिए जान की भी बात कही.

हिन्दुस्थान समाचार/आकाश