नस्लभेदी बयान पर ट्रंप के खिलाफ प्रतिनिधिसभा में निंदा प्रस्ताव पारित
  • यह सदन रविवार को जारी ट्रम्प के उस ट्वीट की घोर निंदा करता है
  • आप हमारे देश से घृणा करते हैं,या आप यहां प्रसन्न नहीं हैं

वाशिंगटन. राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प के नस्लवादी बयान पर डेमोक्रेट बहुल कांग्रेस की प्रतिनिधि सभा ने रोष जताते हुए मंगलवार को उनके खिलाफ निंदा प्रस्ताव पारित कर दिया. यह प्रस्ताव 187 के मुकाबले 240 मतों से पारित हुआ. प्रस्ताव के पक्ष में सत्ताधारी रिपब्लिकन पार्टी के चार और एक निर्दलीय सदस्य ने मतदान किया. इस सदन में डेमोक्रेटिक पार्टी के 235 सदस्य हैं.

प्रस्ताव में कहा गया है कि यह सदन रविवार को जारी ट्रम्प के उस ट्वीट की घोर निंदा करता है, जिसमें उन्होंने सदन की चार अश्वेत महिला सदस्यों को अमेरिका छोड़ कर अपने अपने देश चले जाने को कहा था.

इन चार अश्वेत महिलाओं में तीन एलेक्जेंडर ओकासियो-कोर्टेज़(न्यू यॉर्क, रशिदा तैलब (मिशिगन), आयाना प्रेसली (मैसाचुटेस) का जन्म अमेरिका में हुआ है, जबकि इल्हन ओमार सोमालिया से छोटी आयु में आई थीं और बाद में यहां अमेरिकी नागरिक बन गईं. राष्ट्रपति के इस बयान के विरोध में रिपब्लिकन पार्टी के कुछ सांसदों ने डेमोक्रेट सदस्यों का साथ दिया, लेकिन रिपब्लिकन पार्टी के नेताओं ने राष्ट्रपति का साथ दिया.

हालांकि इस मामले में अमरीकी राष्ट्रपति डॉनाल्ड ट्रंप अब भी अपने बयान पर कायम हैं. उन्होंने डेमोक्रेट महिला सांसदों के समूह पर मंगलवार को अपना हमला जारी रखते हुए कहा कि जो अमरीका से घृणा करते हैं, उन्हें देश छोड़ देना चाहिए. ट्रंप ने ट्वीट में कहा कि देश स्वतंत्र, खूबसूरत और बहुत सफल है.

अगर आप हमारे देश से घृणा करते हैं,या आप यहां प्रसन्न नहीं हैं, तो आप जा सकते हैं. ट्रम्प ने अपने पहले किए गए ट्वीट में टिप्पणियों का बचाव किया और कांग्रेस की महिलाओं को निशाना बनाया. ट्रंप ने आलोचनओं को खारिज करते हुए कहा कि ये ट्वीट्स नस्लीय नहीं हैं. मेरी रगों में नस्लीय दुर्भावना का खून नहीं है.’


हिंदुस्थान समाचार / ललित

Trending Tags- Congress | Donald Trump | Democratic Party | Aaj ka Samachar

Leave a Comment

%d bloggers like this: