कोलकाता में ईस्ट वेस्ट मेट्रो परियोजना को पूरा होने में जानिए कितने साल की होगी देरी

कोलकाता. कोलकाता में गंगा नदी के नीचे बन रही बहुप्रतीक्षित ईस्ट वेस्ट मेट्रो परियोजना के पूरा होने में और एक साल की देरी होगी. इस मेट्रो का निर्माण करवा रही संस्था कोलकाता मेट्रो रेल कारपोरेशन लिमिटेड (केएमआरसीएल) ने बुधवार को जारी बयान में कहा है कि इस परियोजना के जून 2021 तक पूरा होने की संभावना थी लेकिन बउबाजार की घटना की वजह से इसे 2022 के मध्य से पहले पूरा कर पाना संभव नहीं होगा.

सितम्बर में बउबाजार क्षेत्र में सुरंग की खुदाई के दौरान आसपास की इमारतों में दरार पड़ गई थी और कई इमारतें गिर गई थीं. इसके बाद कलकत्ता उच्च न्यायालय ने ईस्ट वेस्ट मेट्रो परियोजना के काम पर स्थगन आदेश लगा दिया है. इस विषय पर कोर्ट ने विशेषज्ञों की राय मांगी है.

मेट्रो के विशेषज्ञों ने काम को दोबारा शुरू करने के लिए रोड मैप बनाना शुरू कर दिया है और जल्द ही ईस्ट वेस्ट मेट्रो के लिए सुरंग खुदाई का काम शुरू हो जाएगा. हावड़ा मैदान से गंगा नदी के नीचे से होते हुए कोलकाता के आईटी हब साल्टलेक को जोड़ने के लिए 16.6 किलोमीटर लंबी ईस्ट वेस्ट मेट्रो परियोजना है.

हिन्दुस्थान समाचार / ओम प्रकाश

Leave a Reply