भारत-चीन सीमा पर झड़प में शहीद हुए तेलंगाना के संतोष बाबू, इलाके में पसरा मातम

Col. B. Santosh Babu
Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on whatsapp
WhatsApp

हैदराबाद, तेलंगाना।

सोमवार देर रात चीन की सीमा पर हुई झड़प शहीद हुए कर्नल बी. संतोष बाबू राज्य के सूर्यपेट जिले के निवासी हैं. वह 16 बिहार रेजिमेंट के कमांडिंग ऑफिसर थे. और करीब 18 महीनों से LAC पर तैनात थे.

उनके शहीद होने की खबर से शहर में शोक की लहर दौड़ गई है. भारत-चीन सीमा पर बी. संतोष बाबू के शहीद होने की खबर मंगलवार को उनके पिता उपेन्द्र को दी गई. इस समय संतोष की पत्नी संतोषी नई दिल्ली में हैं.

परिवार के सूत्रों ने बताया कि संतोष बाबू डेढ़ साल से भारत-पाकिस्तान और भारत-चीन की सीमा पर तैनात थे. उनकी पत्नी संतोषी बेटी अभीज्ञ (9) और बेटा अनिरुद्ध (4) सभी दिल्ली में एक आर्मी स्कूल में पढ़ रहे हैं.

संतोष बाबू ने अपनी शिक्षा आंध्र प्रदेश के विजयनगरम ज़िले के कोरकोंडा सैनिक स्कूल से की थी. उनके पिता उपेंद्र स्टेट बैंक के प्रबंधक रहे हैं और अभी एक साल के पहले वे सेवानिवृत्त हुए हैं. तीन महीने पहले संतोष बाबू को हैदराबाद स्थानांतरित किया गया था, लेकिन लॉकडाउन के चलते वे नहीं आ सके.

संतोष बाबू की शहादत की खबर मिलते ही सूर्यपेट शहर में मातम छा गया है. उनके परिवार के सदस्य और शुभचिन्तक उनके घर पहुंच रहे हैं. संतोष बाबू की शहादत की खबर सुनते ही उनकी मां मंजुला बेहोश हो गयी. उन्हें तुरंत अस्पताल ले जाया गया है.

परिवारिक सूत्रों ने बताया कि संतोष बाबू का पार्थिव शरीर बुधवार सुबह विशेष विमान से हैदराबाद पहुंचेगा. उनकी अंतेष्टि कल ही सूर्यापेट में ही पूरे राजकीय सम्मान के साथ होने की संभावना है.

हिन्दुस्थान समाचार/नागराज