Yogi Adityanath
Yogi Adityanath

भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के विजय संकल्प सभा में कांग्रेस पर हमलावर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि चुनाव आते ही एक परिवार को मंदिर याद आ जाता है. 

सीएम योगी ने गांधी परिवार पर तंज कसते हुए कहा कि चुनाव आते ही वे घूम-घूमकर मत्था टेकने लगते हैं, लेकिन मंदिर में बैठने से उनके संस्कारों का पता चलता है. 

कटाक्ष करते हुए कहा कि मंदिर में बैठते समय लगता है कि वे नमाज पढ़ रहे हैं. महागठबंधन पर निशाना साधते हुए योगी ने कहा कि महामिलावट गठबंधन ही राम मंदिर निर्माण में सबसे बड़ी बाधक है. कांग्रेस ने भी कोर्ट में वकीलों की फौज खड़ी कर दी है.

उन्होंने कहा कि वर्ष 2014 के लोकसभा चुनाव में आम जनमानस और देश के विकास का संकल्प लेकर लोगों ने मोदी सरकार बनाई थी. यह कार्य आगे बढ़ रहा है. अब सभी सेनानियों-शहीदों के सपने का भारत बनाने का समय आ गया है. मोदी सरकार के कार्यों के आधार पर बीजेपी को वोट पाने का पूरा अधिकार है. 

उन्होंने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी पर कटाक्ष करते हुए कहा कि जिस कार्य को कभी पूरा ही नहीं किया जा सकता, उसी कार्य की घोषणा कांग्रेस अध्यक्ष कर रहे हैं. पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी ने गरीबी हटाओ का नारा दिया था, लेकिन यह दिवास्वप्न ही रह गया. 

उन्होंने राहुल के 72 हजार रुपये सालाना देने की घोषणा पर भी कटाक्ष किया और मोदी सरकार की उपलब्धियां गिनाईं. प्रधानमंत्री आवास, गैस कनेक्शन, किसानों को सालाना दिए जाने वाले 6 हजार रुपये, अनेक विभागों में बढाए गए मानदेय आदि का ब्योरा दिया. 

सीएम योगी ने इस दौरान रोजगार के क्षेत्र में मुद्रा योजना, प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना जैसी योजनाओं जिक्र करते हुए मोदी सरकार की जमकर तारीफ की.

योगी ने किसानों के कर्ज माफी की चर्चा की और विभिन्न प्रदेशों की कांग्रेस नीत सरकारों द्वारा उठाये गए कदमों को नाकाफी बताया. उन्होंने कहा कि बीजेपी ने जो कहा, वह किया, लेकिन कांग्रेसनीत सरकारों वाली प्रदेशो में किसानों को छला गया है. जो कहा, वह पूरा नहीं किया. आधा अधूरा वादा पूरा हुआ. 58 हजार करोड़ गन्ना मूल्य का भुगतान करने की बात कहते हुए कांग्रेस पर किसानों लालीपाप देकर आकर्षित करने के प्रयास का आरोप लगाया.

उन्होंने कहा कि कांग्रेस के 55 साल पर बीजेपी के 55 माह का शासन काल भारी है. गांव, गरीबों और मजलूमों के हित मे उठाये गए कदमों की चर्चा करते हुए कहा कि सपा के शासनकाल में 83 हजार आवास दिए गए लेकिन बीजेपी के शासनकाल में 23 लाख से अधिक आवास दिए गए हैं. एक करोड 22 लाख परिवारों को उज्ज्वला योजना का लाभ दिया गया है. यह लाभ बिना भेदभाव दिया गया है.

गोरखपुर में एम्स और फर्टिलाइजर कारखाने की स्थापना हुई है. पिपराइच और बस्ती में चीनी मिल लगाकर एसपी-बीएसपी सरकार में गुंडाराज होने का आरोप लगाया. उन्होंने कहा कि गोरखपुर को फोरलेन की कनेक्टिविटी की सुविधा बीजेपी सरकार की देन है. गांव गांव में सड़कों का जल बीजेपी सरकार ने बिछाने का काम किया है.

उन्होंने कहा कि बीजेपी सरकार में पर्यटन के क्षेत्र में भी काफी कार्य हुआ है. गोरखपुर में एक साथ 31 हजार बुजुर्गों को पेन्शन देने का कार्य हुआ. एक लाख 31 हजार दिव्यांगों को सुविधा देने के वक्त प्रदेश सरकार ने जाति या धर्म नहीं देखा गया. इसलिए बीजेपी का वोट पर अधिकार है. 

योगी ने वायुसेवा से जुड़े प्रदेशों और स्थानों की चर्चा की. कहा कि ‘मोदी है तो मुमकिन है.’ उन्होंने कहा कि मंदिर निर्माण में सबसे बड़ी बाधक कांग्रेस है जिसने कोर्ट में वकीलों की एक लंबी फौज खड़ी कर दी है. 

उन्होंने कहा कि कांग्रेस के नेता वकील के रूप में खड़े होकर खुद यह दलील देते हैं कि राममंदिर मामले की सुनवाई वर्ष 2019 के बाद होनी चाहिए. कांग्रेस को आतंकवाद के मुद्दे पर भी घेरा. 

पुलवामा हमले की चर्चा कर आरोप लगाया कि कांग्रेस की सरकार आतंकियों को बिरयानी खिलाकर बात करती थी लेकिन मोदी सरकार ने कड़े कदम उठाकर एयर स्ट्राइक में रूप में आतंकियों की कमर तोड़ी. 

पाकिस्तान को अंतराष्ट्रीय स्तर पर अलग करने का कार्य हो या चीन को दुरुस्त करने का कार्य यह मोदी सरकार ने किया है. 

उन्होंने सवाल किया कि क्या आप चाहते हैं कि आतंकियों का पोषण करने वाली पार्टी सत्ता में आये. क्या पाकिस्तान की भाषा बोलने वाले नेताओं की पार्टी के हाथों में देश की बागडोर जाय. अगर ऐसा नहीं चाहते हैं तो बीजेपी को वोट देकर मोदी सरकार को दूसरा मौका दीजिए.

हिन्दुस्थान समाचार/पुनीत