50 फीसदी लोगों के साथ 15 अक्टूबर से खुल रहे हैं सिनेमा हॉल, इन नियमों का करना होगा पालन

Cinema Hall
Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on whatsapp
WhatsApp

कोरोना महामारी के कारण कई महीने से बंद पड़े सिनेमा हॉल 15 अक्टूबर से खुलने जा रहे हैं. इस संबंध में आज (मंगलवार को) केन्द्रीय सूचना प्रसारण मंत्रालय ने दिशा-निर्देश जारी कर दिए हैं.

मंत्रालय द्वारा जारी स्टैंर्ड ऑपरेटिंग प्रोसीजर (SOP) के मुताबिक सिनेमा हॉल में 50 प्रतिशत सीटें ही भरी जा सकेंगी. सीटों के बीच सोशल डिस्टेंसिंग बनाकर रखना पड़ेगा. हॉल में मास्क लगाना अनिवार्य होगा. प्रवेश द्वार और निकास द्वार पर टेम्परेचर की जांच करना और सैनिटाइजर रखना अनिवार्य होगा.

केन्द्रीय सूचना व प्रसारण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने बताया कि सभी सिनेमा हॉल में फिल्म के प्रसारण से पहले और इंटरवेल में कोरोना को लेकर जागृति वाली एक मिनट की फिल्म या उद्घोषणा दिखाना अनिवार्य होगा. फिल्म के दो शो के बीच में आवश्यक अतंराल हो ताकि हॉल को अच्छी तरह सैनिटाइज किया जा सके.

सिंगल स्क्रीन वाले हॉल में टिकट खिड़कियों की संख्या को बढ़ाना होगा, टिकट बुकिंग के लिए ऑनलाइन मोड को प्रोत्साहित किया जाना चाहिए. उन्होंने कहा कि सिनेमा हॉल में सिर्फ पैकड फूड ही बेचा जा सकेगा. साथ ही हॉल में 23 से 25 डिग्री तापमान बनाए रखना होगा. उन्होंने कहा कि इन सभी उपायों के साथ लोग 15 अक्टूबर से सिनेमा का आनंद उठा सकेंगे.

इन नियमों का करना होगा पालन

1. सिनेमा हॉल के संचालकों को स्पष्ट निर्देश दिया गया है कि एक शो में सिर्फ 50 फीसदी सीटों को ही बुक किया जा सकता है. मतलब सोशल डिस्टेंसिंग को ध्यान में रखते हुए सिर्फ 50 फीसदी लोगों को ही एंट्री मिलेगी.
2. एक शो खत्म होमे के बाद सिनेमा हॉल को लगातार सेनेटाइज किया जाना अनिवार्य होगा.
3. सिनेमा हॉल के अंदर सेनेटाइजर और हाथ थोने की व्यवस्था का इंतजाम होना अनिवार्य होगा.
4. दर्शकों को सिनेमा हॉल में एंट्री लेने के लिए आरोग्य सेतु एप का इस्तेमाल करना अनिवार्य होगा.
5. हर दर्शक का टेंपरेचर मांपा जाएगा. उसके बाद ही उसे एंट्री दी जाएगी. यदि किसी को बुखार होगा, तो उसे एंट्री नहीं दी जाएगी.
6. ऑनलाइन टिकट को बढ़ावा दिया जाएगा. हालांकि टिकट काउंटर से भी टिकट मिल जाएगी.
7. खाने-पीने का सामान पैक्ड मिलेगा.
8. सिनेमा हॉल में कार्य कर रहे कर्मचारियों को सभी नियमों का पालन करना होगा. उनको मास्क, ग्लव्स पहनना अनिवार्य होगा.