चिराग से रोशन होई लोजपा, कार्यकारिणी ने सर्वसम्मति से चुना अध्यक्ष

लोक जनशक्ति पार्टी को आज नया अध्यक्ष मिल गया है. लोजपा सांसद चिराग पासवान पार्टी के नए अध्यक्ष चुने गए हैं. वे केन्द्रीय मंत्री और पूर्व पार्टी अध्यक्ष राम विलास पासवान के बेटे हैं.

राम विलास पासवान ने कहा कि चिराग पासवान को एकमत से राष्ट्रीय कार्यकारणी की बैठक में अध्यक्ष चुना गया. चिराग जमुई से लोकसभा सांसद हैं और लोजपा की केन्द्रीय संसदीय बोर्ड के अध्यक्ष भी हैं.

दलित वोटबैंक वाली लोजपा पार्टी के बिहार में भाजपा के साथ गठबंधन में 2014 और 2019 में छह सांसद जीतकर आए हैं. राम विलास पासवान ने वर्ष 2000 में जनता दल (यूनाइटेड) से अलग होकर पार्टी बनाई थी. 

2014 के चुनावों से पहले उन्होंने बीजेपी नेतृत्व वाले राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन में शामिल होने का फैसला लिया था. माना जा रहा था कि इस फैसले में चिराग की बड़ी भूमिका थी.

युवाओं के हाथ में कमान

लोक जनशक्ति पार्टी के सभी प्रदेशों के प्रदेश अध्यक्ष विधायक सांसद और वरिष्ठ नेता मौजूद थे. राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में फैसला लिया गया कि अब रामविलास पासवान लोक जनशक्ति पार्टी के संरक्षक रहेंगे और लोक जनशक्ति पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष चिराग पासवान होंगे.

कार्यकारिणी बैठक में सर्वसम्मति के साथ लोजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष चिराग पासवान को चुना गया. इस तरह से अब लोक जनशक्ति पार्टी पूरी तरह से युवाओं के हाथ में चली गई है. बता दें कि इससे पहले विहार प्रदेश लोजपा अध्यक्ष समस्तीपुर से नवनिर्वाचित सांसद प्रिंस राज को बनाया गया था.

साथ ही लोक जनशक्ति पार्टी के युवा विंग के राष्ट्रीय अध्यक्ष चंदन कुमार को बनाया गया था. यदि महिला प्रकोष्ठ की बात करें तो वैशाली से लोजपा सांसद वीणा देवी को लोजपा महिला मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष नियुक्त किया गया था. और दलित सेना जोरा लोजपा का विंग है

हिन्दुस्थान समाचार/अनूप

Leave a Comment