PM शिशु विकास योजना से सुरक्षित होगा बच्चों का स्वास्थ्य शिक्षा और भविष्य

23
Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on whatsapp
WhatsApp

नई दिल्ली. देश के गरीब ,वंचित ग्रामीण बच्चे को स्वास्थ्य, जीवन और शिक्षा में वित्तीय सुरक्षा प्रदान करने के उद्देश्य से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा प्रधानमंत्री शिशु विकास योजना (PMSVY:-Pradhanmantri Shishu Vikas Yojana ) की शुरुआत की गई है.

Pradhanmantri Shishu Vikas Yojana के तहत इन बच्चों के जीवन बीमा के लिए 2.5 लाख रुपए प्रति बच्चा भी दिया जाएगा.प्रधानमंत्री शिशु विकास योजना की शुरुआत गरीब और जरूरतमंद बच्चों को शिक्षा स्वास्थ्य और उनके भविष्य के लिए कुछ मदद उपलब्ध कराना है.शिशु विकास योजना के तहत केंद्र सरकार के द्वारा 20,75 करोड गरीब बच्चों को स्वास्थ्य ,जीवन और शिक्षा के साथ वित्तीय सुरक्षा प्रदान की जाएगी.

“क्या है PMSVY योजना”
गरीब और कमजोर परिवारों में बच्चों के बीमार होने पर अचानक वित्तीय बोझ को कम करने और गुणवत्तापूर्ण स्वास्थ्य सेवाओं तक उनकी पहुँच सुनिश्चित करने के लिए शिशू विकाश योजना की कल्पना की गई है.शिशु विकास योजना 20.75 करोड़ गरीब, वंचित ग्रामीण बच्चों को स्वास्थ्य, जीवन और शिक्षा में वित्तीय सुरक्षा प्रदान करेगी। इसे एक लाभ कवर आरएस देना होगा.

स्वास्थ्य के लिए प्रति वर्ष 250,000 प्रति बच्चा, उच्च शिक्षा के लिए 500,000 प्रति बच्चा एक समय और जीवन के लिए 250,000 प्रति बच्चा लाभ दिया जाएगा.

प्रधानमंत्री शिशु विकास योजना (Pradhanmantri Shishu Vikas Yojana) के तहत सरकार गरीब और जरूरतमंद बच्चों की शिक्षा, स्वास्थ्य और उनके भविष्य को सुरक्षित बनाने के लिए शुरू किया  है. इस योजना का मुख्य उद्देश्य गरीब बच्चों को स्वस्थ्य जीवन देने के साथ -साथ शिक्षा के लिए वित्तीय सुरक्षा भी प्रदान करना है. केंद्र सरकार इस योजना द्वारा बच्चों को कई प्रकार की  सुविधाएं व सहायता देगी. अगर आप भी अपने बच्चों के लिए इस योजना का लाभ प्राप्त करना चाहते है. इसके लिए आवेदन करना होगा.

“योजना का लक्ष्य”
Pradhanmantri Shishu Vikas Yojana की शुरुआत देश के ऐसे बच्चों के लिए की गई है जो स्कूल जाते हैं साथ ही सरकार के द्वारा 3 से 6 वर्ष के बच्चों की शिक्षा के लिए वित्तीय सहायता प्रदान करना भी इस योजनायोजना का एक अहम हिस्सा है.देश के ऐसे परिवार जो आर्थिक रूप से कमजोर हैं और अपने बच्चों का उज्जवल भविष्य बनाना चाहते हैं वह अपने बच्चों को प्रधानमंत्री शिशु विकास योजना (PMSVY) का लाभ दिलाने के लिए आवेदन कर सकते हैं ।

“पीएम शिशु विकास योजना के लाभ”
इस योजना के अंतर्गत जीवन बीमा के लिए 2.5 लाख रुपए प्रति बच्चा का कबर केंद्र सरकार के द्वारा गरीब और कमजोर वर्ग के परिवार को दिया जाएगा ।

Pradhanmantri Shishu Vikas Yojana (PMSBY) के तहत सरकार के द्वारा उच्च शिक्षा की प्राप्ति के लिए प्रति बच्चा 5 लाख रुपए की सहायता भी प्रदान की जाएगी.

बालिकाओं को विशेष लाभ प्रधानमंत्री शिशु विकास योजना के तहत दिया जाएगा

बालिकाओं के लिए प्रधानमंत्री शिशु विकास योजना के अंतर्गत मिलने वाला लाभ

कक्षा 6 में प्रवेश के बाद ₹3000 दिए जाएंगे

कक्षा 8 में प्रवेश के बाद ₹5000

कक्षा 10 में प्रवेश के बाद ₹7000

कक्षा 12 में प्रवेश के बाद ₹8000

बालिकाओं को स्वरोजगार के लिए 21 वर्ष की आयु होने पर 2 लाख रुपए अतिरिक्त की सहायता प्रदान की जाएगी.

“योजना के लिए पात्रता मापदंड”
Pradhanmantri Shishu Vikas Yojana (PMSBY) का लाभ ऐसे ही परिवार ले सकते हैं जिसकी पारिवारिक सालाना आय 5 लाख रुपए से कम हो.

केवल स्कूल में पढ़ने वाले छात्र ही प्रधानमंत्री शिशु विकास योजना (Pm Shishu Vikas Yojana) के तहत आवेदन कर सकते हैं.

शिशु विकास योजना के तहत स्वास्थ्य बीमा का लाभ प्राप्त करने के लिए लाभार्थी को खाते का विवरण देना होगा और अपना KYC भी पूरा करना होगा.

इसके लिए आपकी पारिवारिक आय (Family Income) 5 लाख से कम होनी चाहिए.

भारत का नागरिक होना चाहिए.

सभी स्कूली छात्र इस योजना में नामांकन करा सकते हैं.

इस योजना में पूरे जीवन में उच्च शिक्षा बीमा का वन टाइम लाभ लागू होगा.

स्वास्थ्य बीमा (Health Insurance) का लाभ प्राप्त करने के लिए आपको एक बैंक अकाउंट जोड़ने और केवाईसी (KYC) पूरा करनी होगी.

“आवेदन करने हेतु आवश्यक दस्तावेज”
आधार कार्ड (Aadhar card)

वोटर आईडी कार्ड (Voter ID. Card)

पैन कार्ड (Pan Card)

आय प्रमाण पत्र (Income Certificate)

बैंक डिटेल (Bank Detail)

“आवेदन कैसे करें”
सबसे पहले आप योजना की ऑफिशियल वेबसाइट पर जाएं.

उसके बाद होम पेज पर, प्रधान मंत्री शिशु विकास योजना (PMSVY) के आवेदन फॉर्म पर क्लिक करें.

आवेदन फॉर्म में अपनी डिटेल दर्ज करें.

अपने दस्तावेज अपलोड करें.

फिर सब्मिट बटन पर क्लिक करें.

हिंदुस्थान समाचार/कर्मवीर सिंह तोमर