विधायकों से मिलने पहुंचे छगन भुजबल, कहा हमारे पास समर्थन

महाराष्ट्र की राजनीति में बीते 3 दिनों में कई हैरान करने वाली घटनाएं घटी हैं. इन्हीं जोड़ तोड़ के बीच कई ट्वीस्ट भी देखने को मिले हैं. एक तरफ बीजेपी सरकार बनाने की कोशिशों में लगी है वहीं शिवसेना, कांग्रेस और एनसीपी सरकार के विरोध में है.

इसी बीच सोमवार की सुबह पांच बजे एनसीपी के नेता छगन भुजबल अपने विधायकों से मिलने होटल हयात पहुंचे. इस दौरान उन्होंने मीडिया को कहा कि मैं यहां अपने विधायकों से मिलने आया हूं. हमारी एक या दो विधायक ही यहां नहीं है बाकि सभी विधायक हमारे साथ मौजूद हैं.

माना जा रहा है कि बीते शनिवार के शुरू हुए घटनाक्रम के बाद शरद पवार की पार्टी एनसीपी से विधायक टूटने की संभावना जताई जा रही है. ऐसा न हो सके इसलिए पार्टी ने अपने सभी विधायकों को एक साथ एक होटल में ठहरा दिया है.

होटल में विधायकों से मिले पवार और उद्धव

शरद पवार और शिवसेना अध्यक्ष उद्धव ठाकरे ने होटल ललित और होटल रेनेसॉ में जाकर विधायकों से मुलाकात की. दोनों नेताओं ने पार्टी के विधायकों को आश्वासन दिया है कि बहुत जल्द सूबे में शिवसेना-एनसीपी-कांग्रेस गठबंधन की सरकार गठित होगी.

होटल रेनेसॉ में विधायकों से सिविल ड्रेस में मिलने आये दो पुलिसकर्मियों को एनसीपी विधायक जीतेंद्र आव्हाड ने पकड़ा और उन्हें बाद में छोड़ दिया गया. इसी तरह होटल ललित में ठहरे शिवसेना विधायकों को अन्य होटल में शिफ्ट कर दिया गया है. कांग्रेस के विधायक जुहू स्थित होटल जेडब्ल्यू मेरियट में ठहरे हुए हैं. तीनों दलों के विधायकों की सुरक्षा की जिम्मेदारी शिवसैनिक मुस्तैदी से निभा रहे हैं.

मलिक का दावा- जल्द ही लौट आएंगे अजीत पवार

एनसीपी प्रवक्ता नवाब मलिक ने कहा कि अजीत पवार ने जो कुछ भी ट्वीट किया है, उससे स्पष्ट हो जाता है कि वह बहुत जल्द ही एनसीपी में लौट आएंगे. ट्वीट में जिस तरीके से अजीत पवार ने शरद पवार के प्रति आस्था जतायी है, इसके बाद उन्हें अपनी गलती का अहसास हो गया है.

मलिक ने कहा कि सोमवार को सुप्रीम कोर्ट का किस तरह का निर्णय आता है, उसके बाद शिवसेना-एनसीपी और कांग्रेस अपनी अगली रणनीति तय करेंगी. उन्होंने दावा किया कि विधानसभा में भाजपा सरकार विश्वासमत हासिल नहीं कर पाएगी.

Leave a Reply

%d bloggers like this: